उत्तराखंड में DM मयूर दीक्षित ने असंभव को कर दिखाया संभव,बनाया पहाड़ का पहला ऑक्सीजन प्लांट

अजब गजब खबरे

कहते हैं कि अगर कुछ कर दिखाने का जज्बा हो तो कुछ भी असंभव नहीं है। उत्तर काशी के डीएम मयूर दीक्षित ने अपनी मेहनत और शानदार नेतृत्व के चलते उत्तरकाशी में हालात पर काबू पा लिया हैं। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित की सक्रियता, काम के प्रति लगन और पूर्ण निष्ठा का कमाल है कि जिले में ऑक्सीजन प्लांट तय समय से पहले ही बनकर तैयार हो गया है।

आपने बिल्कुल ठीक पढ़ा…उत्तरकाशी जिले में पहाड़ का पहला ऑक्सीजन प्लांट बनकर तैयार हो चुका है और यह मुमकिन हो पाया है जिलाधिकारी मयूर दीक्षित के कुशल नेतृत्व और उनकी सक्रियता के चलते। उत्तराखंड के हालात आपको पता ही हैं। ऑक्सीजन की भारी कमी के कारण कोविड पेशेंट्स दम तोड़ रहे हैं। मगर उत्तरकाशी में हालात सुधरते हुए दिखाई दे रहे हैं। जिलाधिकारी के स्मार्ट वर्क का नतीजा है कि जिले में न केवल कोविड केसों में कमी आई है बल्कि स्वास्थ्य सुविधाओं में भी सुधार हुआ है।

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित के नेतृत्व में उत्तरकाशी जिला कोविड के समय में लगातार प्रोग्रेस कर रहा है और बेहतरीन कार्य कर रहा है। उत्तरकाशी के जिला अस्पताल के सीएमएस एसडी सकलानी और उनकी पूरी टीम दिन-रात मरीजों के उपचार में जुटी हुई है और पूरी लगन के साथ ड्यूटी कर रही है। इसी बीच जिला अस्पताल के सीएमएस एसडी सकलानी और जिलाधिकारी मयूर दीक्षित की सक्रियता और मेहनत के चलते उत्तरकाशी जिले में तय समय से पहले ऑक्सीजन प्लांट बनकर तैयार हो चुका है। जिले में कोविड के बढ़ते मरीजों और ऑक्सीजन की बढ़ती किल्लत को देखते हुए उत्तरकाशी जिले में स्थित जिला अस्पताल में यह ऑक्सीजन प्लांट लगाने का कार्य शुरु किया गया था।

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित और अस्पताल के सीएमएस एसडी सकलानी ने ऑक्सीजन प्लांट के निर्माण कार्य के दौरान लगातार इसकी मॉनिटरिंग की और उनके कुशल नेतृत्व का ही यह कमाल है कि जिले में तय समय से पहले ही ऑक्सीजन प्लांट बनकर तैयार हो चुका है और यह जरूरतमंदों को ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.