दिन दहाड़े युवक पर गुलदार ने किया हमला,मौत के मुंह से ऐसे छीन कर लाया जिंदगी

अजब गजब खबरे

उत्तराखंड में जहां एक और कोरोना कर्फ्यू लगा है तो वहीं जंगली जानवरों का आतंक जारी है।  अल्मोड़ा जिले के द्वाराहाट ब्लॉक के दूरस्थ गांव बैनाली में युवक पर गुलदार ने दिन दहाड़े हमला कर दिया। लेकिन युवक अपनी बहादुरी से युवक ने गुलदार को पछाड़ दिया। और मौत के मुंह से जिंदगी को छीन लाया।

बता दें कि अल्मोड़ा के बिंता क्षेत्र के बैनाली ग्रामपंचायत के तोक बुढाईजर का नंदन सिंह (28) सोमवार को अपने मवेशियों को लेकर पास के खेतों में गया हुआ था। करीब 12 बजे झाड़ियों में घात लगाए गुलदार ने उसपर हमला बोल दिया। मवेशियों को हांकने के लिए हाथ में मौजूद छड़ी युवक का सहारा बनी। वह भी तेंदुए से भिड़ गया। अपनी बहादुरी से युवक ने गुलदार को पछाड़ दिया। लेकिन युवक भी घायल हो गया। गुलदार ने उसके हाथ, पैर व छाती को लहलुहान कर दिया। जिसके बाद  गुलदार खेतों से होकर दूर जंगल की ओर चला गया।

घायल नंदन की आवाज सुन ग्रामीण एकत्र हुए। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बिंता के बाद उसे सीएचसी द्वाराहाट लाया गया। जहां से उपचार के बाद उसे छुट्टी दे दी गई। पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य चंदन बिष्ट ने बताया कि कई दिनों से गुलदार का आतंक का पर्याय बना है। अभी तक कई मवेशियों को अपना निवाला बना चुका है। सोमवार को युवक पर सरेराह हमला बोल देने से क्षेत्र में दहशत और बढ़ गई है। उन्होंने घायल युवक तथा मारे गए मवेशियों के पालकों को उचित मुआवजा देने तथा क्षेत्र में पिंजरा लगाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.