युवाओं का अनोखा विरोध प्रदर्शन, सड़क निर्माण के लिए स्कूटी को कंधे पर उठाकर तय किया 8 किलोमीटर का सफर

उत्तराखंड मे आज भी कई गांव सड़क के लिए तरस रहे है। तो कुछ लोग खुद ही सड़क बना रहे है। ऐसे में पिथौरागढ़ से  सड़क निर्माण के लिए युवाओं ने अनोखा प्रदर्शन किया है। आपने धरना-प्रदर्शन या जाम लगाने की खबरें तो सुनी होंगी, लेकिन कभी  स्कूटी को कंधे पर उठाकर खतरनाक सफर तय करने की खबर कभी नहीं सुनी होगी। लेकिन पिथौरागढ़ में ऐसा हुआ है। यहां कुछ युवाओं ने स्कूटी को कंधे पर उठाकर 8 किलोमीटर का सफर तय कर प्रदर्शन किया है।  जिसका वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है।

बता दें कि पिथौरागढ़ में भारत-नेपाल सीमा से सटे इलाके क्वीतड़-हल्दू-पंचेश्वर के बीच सड़क बनाने की मांग लंबे अरसे से की जाती रही है। स्थानीय लोगों  कई  बार प्रशासन के अधिकारियों और सरकार से इसके लिए गुहार लगा चुके है।  लेकिन आज तक सरकार आंख मुंदे हुई है। सरकार और प्रशासन के प्रति यहां के युवाओं में नाराजगी और टूटते सब्र को उनके अनोखे प्रदर्शन से देखा जा सकता है।

पहाड़ के खतरनाक रास्तों पर कंधे पर लदी स्कूटी के साथ इन युवाओं का यह सफर जानलेवा था, लेकिन सड़क के लिए इन्होंने प्रदर्शन का यह कठिन रास्ता चुना. स्कूटी लेकर पहाड़ चढ़ने वाले युवाओं में से एक शमशेर ने कहा कि न तो प्रशासन और न ही राज्य के हुक्मरान, लोगों की समस्या पर ध्यान दे रहे हैं. सरकार के कानों तक इस इलाके की बात पहुंचे, इसलिए हमने विरोध प्रदर्शन का यह तरीका अपनाया। अब देखना होगा कि युवाओं के अनोखे विरोध प्रदर्शन के बाद प्रशासन या सरकार की नींद खुलती है या नहीं । लेकिन अभी इन युवाओं का अनोखे विरोध का यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब सराहा जा रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published.