सीमा: भारत-नेपाल सीमा पर चौकसी बढ़ी कहा, अवैध रूप से भारत में घुसने की कोशिश करी तो माना जाएगा घुसपैठ

खबरे राजनीती सीमा

पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक के बाद आतंकवादी भारत में घुसपैठ कर बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में हैं. माना जा रहा है कि नेपाल से लगे भारत की खुली सीमा से ये घुसपैठ हो सकती है. ऐसे में आतंकवादियों के नेपाल सीमा से भारत में घुसपैठ करने की खूफिया रिपोर्ट के बाद भारत-नेपाल सीमा पर सुरक्षा काफी कड़ी कर दी गई है.
बॉर्डर पर तैनात एसएसबी के जवान दिन-रात चौकसी कर रहे हैं. कोई भी व्यक्ति बिना पहचान पत्र के भारत में प्रवेश नहीं कर सकता है. एक-एक सामान की जांच की जा रही है. गृह मंत्रालय के घुसपैठ का अलर्ट जारी होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था चाक- चौबंद कर दी गई है. भारत-नेपाल सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है।

 

भारत के रक्सौल चेक पोस्ट पर एसएसबी के जवान पूरी मुस्तैदी से इस काम में लगे हुए हैं. हर आने-जाने वाले की जांच की जा रही है. चाहे वो मोटर साइकिल पर हो या चार पहिये वाहन पर यहां तक की पैदल बॉर्डर पार जाने वालों की भी जांच की जा रही है. चेक पोस्ट पर एसएसबी के जवानों के साथ-साथ महिला बटालियन को भी लगाया गया है, ताकि महिलाओं की जांच भी की जा सके. रक्सौल का यह चेक पोस्ट भारत-नेपाल के बीच व्यापारिक आवागमन के लिए इस्तेमाल किया जाता है. इसी रास्ते से कई बार आतंकवादी पहले भारत में घुसपैठ कर चुके हैं. इसके मद्देनजर यहां से गुजरने वाली तमाम गाड़ियों की चेकिंग होती है. डॉग स्क्वाड को भी लगाया गया है, जो सामान को सूंघ कर यह देखते हैं कि कोई संदिग्ध सामान विस्फोटक इत्यादि तो नहीं है।

पिछले दिनों भारत-नेपाल सीमा पर लश्कर-ए-तैयबा के पांच आतंकवादियों को खूफिया जानकारी के तहत एनआईए ने गिरफ्तार किया था. उसके बाद फिर दो संदिग्ध पकड़े गए थे. आतंकवादियों की तरफ से भारत में घुसपैठ करने की लगातार कोशिश चल रही है. इसी के मद्देनजर भारत-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी ने अपनी चौकसी बढ़ा दी है. उधर नेपाल ने भी अपनी तरफ से सुरक्षा को और कड़ी कर दी है. परसा के जिलाधिकारी केशव राज घिमरे ने बताया कि संदिग्धों की धड़-पकड़ के लिए पहचान पत्र की जांच की जा रही है.

नेपाल के सशस्त्र प्रहरी बल ने दत्तू में खोली नई बीओपी

चीन के साथ ही नेपाल भी भारतीय सीमा पर लगातार अपनी सैन्य क्षमता बढ़ा रहा है। नेपाल के सशस्त्र प्रहरी बल (एपीएफ) ने भारतीय सीमा पर दत्तू नामक स्थान पर एक और बॉर्डर आउट पोस्ट (बीओपी) खोल दी है। अब पिथौरागढ़ जिले से लगी सीमा पर नेपाल सेना के बीओपी की संख्या छह हो गई है।
सूत्रों के अनुसार एपीएफ के डीआईजी हरिशंकर बूढ़ाथोकी ने रविवार को दत्तू में नए बीओओ का उद्घाटन किया। दत्तू में जिस स्थान पर यह बीओपी खोली गई है, वह भारत के बलुवाकोट कस्बे के ठीक सामने स्थित है। अब तक नेपाल के दुमलिंग, जौलजीबी, लाली, झूलाघाट, पंचेश्वर और रौतगाड़ में बीओपी थे।

दत्तू का बीओपी छठे नंबर का है। इस सीमा पर नेपाल की दो बटालियन भी हैं। इनमें से एक दार्चुला जबकि दूसरी छांगरू में है। सूत्रों के अनुसार नेपाल की एक और बीओपी सुनसेरा में प्रस्तावित है। सुनसेरा तवाघाट के सामने स्थित है।

माओवादियों का गढ़ था दत्तू

नेपाल के दार्चुला जिले के दत्तू में जिस स्थान पर सशस्त्र प्रहरी बल का बॉर्डर आउट पोस्ट (बीओपी) खोला गया है यह स्थान कभी माओवादियों का गढ़ था। इस स्थान पर माओवादी सबसे अधिक सक्रिय थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.