Home / खबरे / देहरादून के प्यारी पहाड़न रेस्टोरेंट के बदलने लगे दिन, संचालिका को आया PMO से फोन

देहरादून के प्यारी पहाड़न रेस्टोरेंट के बदलने लगे दिन, संचालिका को आया PMO से फोन

देहरादून का प्यारी पहाड़न रेस्टोरेंट चर्चा का विषय बना हुआ है। बता दें कि देहरादून की बेटी ने पहाड़ की संस्कृति, विरासत और दो जून की रोटी की चाह में मेहनत में जुटी एक बेटी ने प्यारी पहाड़न के नाम से एक रेस्टोरेंट खोला है। लेकिन रेस्टोरेंट इन दिनों अपने खाने नहीं बल्कि किसी और वजह से ही सोशल मीडिया पर छा गया है। राज्य में कुछ लोग इस पर राजनीति करने लगे। प्यारी पहाड़न  जहां विवादों में घिरने से रेस्टोरेंट में लोगों का तांता देखने को मिला तो वहीं अब रेस्टोरेंट संचालिका को पीएमओ का भी फोन आया है। जिससे रेस्टोरेंट की संचालिका के चेहरे पर खुशी है। इससे पहले रेस्टोरेंट संचालिका के समर्थन में हरीश रावत भी आए थे।

एक न्यूज वेबसाइट के मुताबिक सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय से भी प्रीति को फोन आया है। फोन करने वाले व्यक्ति ने किसी भी तरह की परेशानी होने पर मदद का आश्वासन दिया है। इस तरह शुरुआती दिनों की चुनौतियों को झेलने के बाद इस रेस्टोरेंट के दिन बदलने लगे हैं। ‘प्यारी पहाड़न’ रेस्टोरेंट में लोगों की भीड़ उमड़ रही है, लोग प्रीति के जज्बे की तारीफ भी कर रहे हैं।

गौरतलब है कि रेस्टोरेंट के उद्घाटन समारोह में खुद को क्रांतिकारी कहने वाले सुरेन्द्र रावत ने इसके नाम को लेकर हंगामा खड़ा कर दिया। और मामला देखते ही देखते सोशल मीडिया पर छा गया। रेस्टोरेंट संचालिका का मकसद था पहाड़ के खान-पान को प्रमोट करना, लोगों को इसके स्वाद से रूबरू करवाना, लेकिन विरोधियों को इस पहल के पीछे छुपी साफ मंशा नहीं दिखाई दी। उन्होंने रेस्टोरेंट के नाम का विरोध करते हुए बवाल करना शुरू कर दिया। रेस्टोरेंट में हंगामा हुआ, संचालिका प्रीति मैंदोलिया को धमकियां तक दी गईं। जिससे बवाल मच कुछ लोग समर्थन में भी आए।