Home / खबरे / मेट्रों की नौकरी छोड़ टिहरी के सुशांत उनियाल गांव में पेश कर रहे मिसाल, पीएम मोदी भी कर रहे इनकी तारीफ

मेट्रों की नौकरी छोड़ टिहरी के सुशांत उनियाल गांव में पेश कर रहे मिसाल, पीएम मोदी भी कर रहे इनकी तारीफ

उत्तराखंड के युवा हर क्षेत्र में अपनी छाप छोड़ रहे है। इसी कड़ी में एक और नाम जुड़ गया है। कहते है न अगर जज्बा हो तो कामयाबी कदम चुमती है। नई टिहरी में डडुर गांव के सुशांत उनियाल ने मेट्रो सिटी की नौकरी छोड़कर गांव में मशरूम उत्पादन करने ठानी तो उनकी कामयाबी का चर्चा हर और हो रहा है। गन और मेहनत से अच्छी कमाई कर रहे सुशांत रिवर्स पलायन का शानदार उदाहरण हैं। उन्होंने अपने गांव छोड़कर मेट्रो सिटी में पलायन करने वाले युवाओं के लिए स्वरोजगार की नई मिशाल पेश की है। उनकी सफलता से पीएम मोदी भी खुश है। उन्होंने सुशांत की तारीफ करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।

बता दें कि सुशांत ने दिल्ली में एक प्राइवेट कंपनी में मैनेजर की नौकरी छोड़कर अपने गांव में मशरूम का व्यवसाय शुरू किया। चंबा निवासी डडुर गांव के सुशांत ने अपने भाई इंजीनियर प्रकाश उनियाल के साथ मिलकर 2019 में व्यवसायिक तौर पर मशरूम उत्पादन शुरू किया था। दोनो की मेहनत रंग लाती गई और दूसरे साल 2020 में ही 80 कुंतल का उत्पादन कर 14 लाख रुपये का टर्नओवर हासिल किया था। जिससे उनके इस प्रयास की गांव-गांव चर्चा होने लगी तो बात प्रधानमंत्री तक पहुंच गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उनके इन प्रयासों की खूब प्रशंसा की है। सोमवार को पीएम मोदी ने किसान सम्मान निधि डिजिटल ट्रांसफर कार्यक्रम के दौरान डीएम कार्यालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सुशांत के प्रयासों की प्रशंसा की। पीएम ने उनसे कहा कि मन लगाकर काम करो आपको और सफलता मिलेगी। पीएम से बात कर सुशांत काफी उत्साहित दिखे। उनकी कामयाबी से पलायन कर रहे युवाओं के लिए एक मिसाल है।