उत्तराखंड में मेहंदी लगाए दुल्हन करती रही इंतजार, दूल्हा नहीं लाया बारात, पढ़िए फिर क्या हुआ

खबरे

काशीपुर: घर में जोर-शोर से शादी की तैयारी हो रही थी. दुल्हन हाथों में मेहंदी लगाए दूल्हे का इंतजार कर रही थी, लेकिन तभी दूल्हे ने दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर बारात लाने से इंकार कर दिया. पीड़ित ने इस मामले में आरोपी दूल्हे के खिलाफ थाने में शिकायत की है. ये मामला उधमसिंह नगर जिले के काशीपुर का है.

कुंडेश्वरी इलाके की रहने वाली एक युवती ने काशीपुर कोतवाली में तहरीर दी है. उसने बताया कि हाल ही में उसका रिश्ता कुंडा थाना क्षेत्र में एक युवक से तय हुआ था. 27 मई को शादी तय की गई थी. रिश्ता तय होने के बाद युवक युवती को घुमाने के लिए दिल्ली, रामनगर जिम कॉर्बेट और काशीपुर लेकर गया. जहां उसने उसकी मर्जी के खिलाफ शारीरिक संबंध बनाये.

शादी के कुछ दिन पहले युवक अपने पिता के साथ उसके घर आया और दहेज में 10 लाख रुपये की मांग करने लगा. पीड़िता के माता-पिता ने पांच लाख का इंतजाम कर युवक और उसके पिता को दे दिये. 24 मई की सुबह युवक और उसके पिता फिर घर पर आये. युवक उससे बात करने के बहाने कमरे में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया. जाते समय युवक ने कहा कि पांच लाख रुपये, कार और बुलेट बाइक देने पर ही शादी करेंगे.

जब उसके परिजनों ने शादी से तीन दिन पहले और कार्ड बंटने की बात कही तो युवक और उसके पिता भड़क गये और गाली-गलौज करने लगे. कहा कि बारात तभी आयेगी जब उनकी दहेज की मांग पूरी होगी. मांग पूरी करने के लिये समय मांगा, लेकिन वह अपनी जिद पर अड़े रहे.

बीते रोज 27 मई को जब उसके माता-पिता ने युवक को फोन कर बारात पहुंचने का समय पूछा तो उन्होंने बारात लाने से इनकार कर दिया. कहा कि बारात तभी आएगी जब दहेज में कार, बुलेट और बाकी के पांच लाख रुपये दोगे. युवती ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कर न्याय की गुहार लगाई. पुलिस पीड़िता के द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर मामले की जांच में जुटी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.