गौरवशाली पल उत्तराखंड के लिए ..अंतरराष्ट्रीय मैराथन में फौजी बहादुर सिंह ने जीता गोल्ड मेडल………

खबरे खेल शहर

उत्तराखंड के सैन्य भाई देश की सेवा करने के साथ खेल के क्षेत्र में भी बहुत नाम कमा रहे हैं। एक ऐसी खबर जिसने हर पहाड़ी को गर्व से भर दिया है, चंपावत से आई है। जिले से ताल्लुक रखने वाले फौजी जवान बहादुर सिंह धोनी ने देश को अंतरराष्ट्रीय मैराथन में स्वर्ण पदक दिलाया है। बहादुर सिंह धोनी ने रविवार को ढाका में मैराथन में स्वर्ण पदक जीता। प्रतियोगिता के दौरान, बहादुर सिंह केवल दो घंटे 21 मिनट और 40 सेकंड में 42 किमी से अधिक की मैराथन पूरी करने में सक्षम थे। बांग्लादेश में शेख मुजीब ढाका मैराथन में स्वर्ण पदक जीतने वाले बहादुर सिंह ने देश के साथ-साथ उत्तराखंड का भी मान बढ़ाया है। जीत के बाद, बांग्लादेश के सैन्य प्रमुख ने फौजी बहादुर सिंह को स्वर्ण पदक से सम्मानित किया। आइए अब आपको बहादुर सिंह धोनी के बारे में और जानकारी देते हैं, जिन्होंने देश और राज्य को गौरवान्वित किया है। वह लोहाघाट ब्लॉक के सीलिंग क्षेत्र से आता है।

बहादुर सिंह धौनी नागा रेजीमेंट का हिस्सा हैं और इस वक्त आर्मी स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट पुणे में एएसआई के पद पर तैनात हैं। फौजी बहादुर सिंह ने इससे पहले भी कई उपलब्धियां हासिल की हैं। वो बेल्जियम, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया और दक्षिण अफ्रीका में हुई अंतरराष्ट्रीय मैराथन में भी शानदार प्रदर्शन कर चुके हैं। बहादुर सिंह ने 19 नवंबर 2018 में प्रयागराज में हुई 34वीं अखिल भारतीय इंदिरा मैराथन में भी पहला स्थान हासिल किया था। उन्होंने 2 घंटे 19 मिनट और 12 सेकेंड में मैराथन पूरी की। अब बहादुर सिंह ने एक और अंतरराष्ट्रीय उपलब्धि हासिल कर उत्तराखंड का मान बढ़ाया है। फौजी बहादुर सिंह की सफलता से प्रदेश और उनके गृह जनपद में खुशी की लहर है। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने प्रशिक्षकों, लोक देवता चौखाम बाबा और क्षेत्रवासियों को दिया। राज्य समीक्षा टीम की तरफ से भी फौजी बहादुर सिंह धौनी को ढेरों शुभकामनाएं। उनकी सफलता का सफर यूं ही जारी रहे, हम यही कामना करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.