पैसे की कमी से हो परेशान एक चुटकी नमक कर सकता है इन सब परेशानियों से दूर

वास्तूशास्त्र

नमक हमारे खाने में सवाद लाने का एक बहुत ही अच्छा व्यंजक है। मानो नमक के बिना खाने में जान न हो , हर चीज बेसवाद सी लगती है। नमक के आयुर्वेद में भी बहुत ही लाभदायक उपचार है। वास्तु में नमक के कई कारगर उपाय बताए गए हैं। यदि नमक के ये उपाय सही प्रकार से किए जाएं तो नकारात्मकता को दूर किया जा सकता है। इसके साथ ही नमक का प्रयोग करके रुपए-पैसों से जुड़ी समस्याएं, पारिवारिक समस्याएं आदि भी दूर की जा सकती हैं। घर में धन संबंधित समस्या हो, नकारात्मकता का प्रवाह बढ़ गया हो या फिर परिवार का कोई सदस्य बीमार रहता हो, नमक के ये उपाय आपको सभी परेशानियों से मुक्ति दिला सकते हैं। तो आइए जानते हैं उपाय।

पोंछे के पानी में नमक
वास्तु के अनुसार घर में पोंछा लगान से पहले थोड़ा सा साबुत समुद्री नमक पानी में डाल देना चाहिए और उसके बाद पोंछा लगाना चाहिए। इस बात का ध्यान रखें की गुरुवार के दिन पानी में नमक न मिलाएं। इससे आपके घर की नकारात्मकता दूर होती है और धन संबंधित समस्याओं से धीरे-धीरे मुक्ति मिल जाती है।

स उपाय से घर में बना रहेगा धन का प्रवाह
यदि घर में धन की आवक सुचारू रूप से नहीं हो रही है तो वास्तु के अनुसार एक कांच के एक गिलास में पानी लेकर उसमें थोड़ा सा नमक मिलाएं और उस गिलास को घर के नैऋत्य कोण में सुरक्षित स्थान पर रख दें। जिससे गिरने का डर न रहे। इसके साथ ही गिलास के पीछे एक लाल रंग का बल्व लगा दें। जब गिलास का पानी सूख जाए तो दोबारा पानी और नमक मिलाकर रख दें। इससे आपके घर में धन का प्रवाह बना रहता है।

धन प्राप्ति और बरकत के लिए
घर में नमक को हमेशा कांच के बर्तन में रखें और उसमें पूजा की चार-पांच लौंग डाल दें। इससे नमक में नमी भी नहीं लगती है और साथ ही आपके घर में धन की आवक एवं बरकत बनी रहती है।

इस उपाय से दूर होगा क्लेश
यदि आपके परिवार में किसी प्रकार की अशांति या क्लेश बना हुआ है या फिर पति-पत्नी में विवाद बना रहता है तो एक पात्र में घर के शयन कक्ष में साबुत नमक की डेलियां रख दें। इस नमक के पंद्रह दिन पर बदलते रहें। इससे आपके घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाती है और घर में खुशहाली एवं मानसिक शांति बनी रहती है।

रोग से मुक्ति के लिए उपाय
यदि आपके घर में कोई सदस्य बहुत बीमार रहता है या फिर काफी दिनों से बीमार चल रहा है तो रोगी को पूर्व दिशा की ओर सिर करके सुलाना चाहिए। इसके अलावा साबुत सेंधा नमक कुछ टुकड़े लेकर रोगी के कमरे में एक कोने में रख दें। इसको थोड़े-थोड़े दिनों पर बदलते रहें। इससे धीरे-धीरे रोगी की सेहत में सुधार होने लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.