Home / खबरे / आज उत्तराखंड से आए बड़ी खबर, इस्तीफा दिया कैबिनेट मंत्री “हरक सिंह रावत” ने

आज उत्तराखंड से आए बड़ी खबर, इस्तीफा दिया कैबिनेट मंत्री “हरक सिंह रावत” ने

जैसे-जैसे उत्तराखंड में चुनाव नजदीक आ रहे हैं उसी प्रकार से नेताओं के बीच में वाद विवाद भी बढ़ते चले जा रहे हैं ऐसे में एक खबर उड़ रही थी कि उत्तराखंड कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने रिजाइन दे दिया है और लोगों ने इसका काफी चर्चाएं भी शुरू कर दी थी जी हां जी एक तरफ जहां आने वाले इलेक्शन के लिए तैयारी जोरों शोरों पर है वहीं दूसरी तरफ इस खबर ने राजनीतिक माहौल में हलचल सी बना दी थी और लोग काफी ज्यादा खुश हो निराश हो रहे थे।

लेकिन कैबिनेट मीटिंग में जाना कैसा क्या हो गया जिससे कि ऐसी बात होने लगी कि वह इस्तीफा देने वाले हैं लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ और यह सब 1 तरीके से गलत खबर बनकर सामने आया लेकिन इसके पीछे का एक कारण यह भी बताया जा रहा था कि पिछले कई दिनों से वह उत्तराखंड में कांग्रेस की सरकार की तरफ जाने के इच्छुक नजर आ रहे थे जिसके चलते कुछ लोगों का यह मानना था कि वह डिजाइन देने वाले हैं लेकिन हम आप सभी लोगों को पूरी हकीकत बता देते हैं।

हालांकि उसके बाद हरक सिंह रावत खुद मीडिया में आए थे और कहा था कि वो बीजेपी नहीं छोड़ेंगे। लेकिन कैबिनेट मीटिंग में अचानक ऐसा क्या हो गया कि हरक सिंह रावत ने इस्तीफा दे दिया? किस बात को लेकर हरक नाराज चल रहे हैं? इस वक्त की बड़ी खबर यह आ रही है कि हरक सिंह रावत ने इस्तीफा दे दिया है।

कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने दिया इस्तीफा

बताया जा रहा है कि सचिवालय में चल रही कैबिनेट मीटिंग को छोड़कर हरक सिंह रावत गुस्से में निकल गए। सवाल यs है कि आगे क्या होगा? क्या हरक सिंह रावत वास्तव में कांग्रेस का दामन थामेंगे? क्या हरक सिंह रावत के मन में कुछ और चल रहा है? देखना है कि इस बारे में आगे और क्या अपडेट सामने आती हैं।

आखिर क्यों उठाया इस प्रकार का कदम

जानकारी के मुताबिक हरक सिंह कोटद्वार में मेडिकल कॉलेज खोले जाने को लेकर सरकार से बात कर रहे थे। लेकिन जब आज की कैबिनेट में भी ये मुद्दा नहीं आया तो हरक नाराज हो गए और कैबिनेट मीटिंग बीच मे छोड़कर अपना इस्तीफा दे दिया। धन सिंह रावत और सुबोध उनियाल हरक सिंह को मनाने भी पहुंचे लेकिन हरक ने किसी की नहीं सुनी। हालांकि हरक की नाराजगी मेडिकल कॉलेज को लेकर बताया जा रहा है लेकिन अब इस बाद का अंदेशा और भी बढ़ गया है कि हरक फिर से पाला बदलेंगे।

पिछले कई दिनों से हरक सिंह रावत को लेकर बीजेपी और कांग्रेस में चर्चाएं काफी तेज थी लेकिन देखना होगा कि बीजेपी के भीतर उठा तूफान कैसे शांत होगा और इस बात में कितनी सच्चाई है और कितनी नहीं यह तो हम सभी लोगों को कुछ दिन में पता चल ही जाएगा और यह सब बात केवल हरक सिंह रावत पर निर्भर करती है कि आखिर वह आने वाले दिनों में क्या करते हैं फिलहाल बड़ी खबर यह है।