अगर AAP आई उत्तराखंड में तो बिजली-पानी फ्री………..

खबरे शहर

दिल्ली की तर्ज पर अब आम आदमी पार्टी उत्तराखंड में भी सरकार बनाने की पूरी तैयारियां करने में जुटी हुई है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने हल्द्वानी में बीते शनिवार को जन संवाद कार्यक्रम में आम आदमी से जुड़े सभी मुद्दों के ऊपर बात की और उन्होंने स्वास्थ्य, शिक्षा, पानी बिजली, पलायन व रोजगार इत्यादि सभी मुद्दों को छुआ। आम आदमी पार्टी के उपमुख्यमंत्री और वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया का कहना है उत्तराखंड में दिल्ली की तर्ज पर ही लोगों को मुफ्त बिजली और पानी दिया जाएगा। दिल्ली में मुफ्त बिजली और पानी का यह मॉडल जनता को काफी पसंद आया था और इसी के बलबूते पर आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में ऐतिहासिक जीत हासिल की थी। इसी को देखते हुए दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि उत्तराखंड की सभी 70 सीटों पर आम आदमी पार्टी चुनाव लड़ेगी और अगर आम आदमी पार्टी उत्तराखंड में सरकार बनाने में सफल होती है तो उत्तराखंड में भी मुफ्त बिजली और पानी मुहैया कराया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्रों में भी पानी की समस्या को दूर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली का मॉडल पिछले साढे 5 सालों में शिक्षा, स्वास्थ्य, पानी, बिजली, रोजगार आदि क्षेत्रों में तरक्की कर रहा है और केजरीवाल ने दिल्ली के मॉडल को मिसाल के रूप में पेश किया है। उन्होंने कहा है कि दिल्ली की तर्ज पर उत्तराखंड में भी विकास किया जाएगा और मुफ्त बिजली एवं पानी की सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी।

उनका कहना है कि उत्तराखंड में सभी सरकारों ने मिलकर उत्तराखंड की जनता की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया है। शनिवार को जन संवाद कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री सिसोदिया ने शिक्षा के ऊपर भी काफी देर तक बात की और कहा कि उत्तराखंड में शिक्षा के ऊपर जोर दिया जाएगा। उत्तराखंड की शिक्षा व्यवस्था ऐसी बनाई जाएगी कि देश-विदेश के बच्चे भी यहां पर पढ़ने आएंगे। उन्होंने कहा कि जो विकास दिल्ली में हुआ है उत्तराखंड में भी अगले 5 सालों में ईमानदार सरकार बनने पर वह विकास हो सकता है। शिक्षा को बुनियादी जरूरत बताते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में सरकारी स्कूल बंद हो रहे हैं। राज्य में जनता भरपूर टैक्स दे रही है मगर फिर भी सरकार टैक्स चोरी का काम कर रही है। आम आदमी पार्टी सरकार शिक्षा को बेहतर बनाएगी और युवा शिक्षित होकर यहीं रोजगार करने के साथ दूसरों को भी रोजगार देंगे जो से पलायन की समस्या को खत्म करेगा और युवाओं को बाहर नौकरी के लिए नहीं जाना पड़ेगा।

कुमाऊं के व्यक्तियों को संबोधित करते हुए, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि 5 साल में दिल्ली के प्रशासन स्कूलों को बदल दिया गया है और अब वे किसी भी गैर-सरकारी स्कूल को टक्कर देने के लिए तैयार हैं। दिल्ली की तरह ही उत्तराखंड में भी सरकारी स्कूलों की दशा सुधारी जाएगी। इसी तरह क्लिनिकल ढांचे में सुधार के लिए एंडेवर बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली में निवासियों की संख्या 24 घंटे मुफ्त हो रही है और इसके अलावा पानी भी मिल रहा है। दिल्ली की तरह, इस तरह से इन आवश्यक कार्यालयों को इस लक्ष्य के साथ भुगतान किया जाएगा कि उत्तराखंड से पुनर्वास को मार दिया जाए। हल्द्वानी के इस सार्वजनिक एक्सचेंज में कई मनी मैनेजर, प्रमुख विशेषज्ञ, प्रशिक्षक और शहर के अन्य लोग पहुंचे थे। उपमुख्यमंत्री ने व्यक्तियों की पूछताछ, सभी बातों पर विचार करके सभा के दृष्टिकोण को स्पष्ट किया। बड़े पैमाने पर, उत्तराखंड में, आम आदमी पार्टी ने इसी तरह से संयोजक क्षेत्र में प्रवेश किया है और भाजपा और कांग्रेस को चुनौती देने के लिए पूरी तरह से तैयार है। यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि आम आदमी पार्टी ने उत्तराखंड के लोगों के दिलों को कैसे जीता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.