देहरादून में मंदिर के बाहर लगा बैनर, जिस पर लिखा था यहां गैर हिंदुओं का आना प्रतिबंधित है

खबरे धर्म शहर

उत्तराखंड से सटे यूपी के गाजियाबाद में कुछ दिन पहले एक मुस्लिम बच्चे की मंदिर में पिटाई हुई थी। बच्चे ने मंदिर में पानी पी लिया था, जिसके बाद उसे बेरहमी से पीटा गया। अब ऐसा ही कुछ उत्तराखंड में हुआ है। यहां मंदिर में किसी की पिटाई तो नहीं हुई, लेकिन मंदिरों के बाहर गैर हिंदुओं की एंट्री बैन करने संबंधी पोस्टर लगा दिए गए। इस मामले में पुलिस ने धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में हिंदू युवा वाहिनी के प्रदेश महासचिव के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। मामला राजधानी देहरादून का है। यहां घंटाघर में प्राचीन शिव मंदिर है। कुछ दिन पहले यहां एक बैनर लगाया गया था। जिस पर मंदिर में गैर हिंदुओं का आना प्रतिबंधित लिखा हुआ था। बताया जा रहा है कि इस तरह के बैनर देहरादून के करीब 150 से ज्यादा मंदिरों में लगाए गए थे। बैनर पर लिखा था कि यह तीर्थ हिंदुओं का है और यहां पर किसी गैर हिंदू का आना प्रतिबंधित है।


रविवार को मामले ने तूल पकड़ लिया। कुछ लोगों ने इसकी शिकायत पुलिस से की। जांच हुई तो पता चला कि बैनर पर एक मोबाइल नंबर भी लिखा हुआ है। जो कि किसी जीतू रंधावा के नाम पर है। जीतू रंधावा हिंदू युवा वाहिनी के प्रदेश महासचिव हैं। इस मामले में पुलिस ने धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। जांच शुरू हो गई है। वहीं इसे लेकर हिंदू युवा वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद वाधवा ने कहा कि धर्म और समाज की रक्षा के लिए हमें खुद आगे आना होगा। अगर किसी मंदिर में कोई विधर्मी अंदर घुसता पाया जाएगा तो उसे मौके पर पकड़कर पुलिस के हवाले किया जाएगा। वहीं कोतवाल देहरादून एसएस नेगी ने कहा कि शहर के मंदिर में विवादित बैनर लगाने की सूचना मिली थी। जिन्होंने बैनर लगवाए थे, उन्हें चेतावनी दी गई है। एक पदाधिकारी पर केस दर्ज किया गया है। मंदिर से बैनर हटा लिए गए हैं। मामले की जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.