CM त्रिवेन्द्र अचानक ही गढ़वाल कमिश्नर ऑफिस में आए.

खबरे राजनीती शहर

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मुख्य सचिव ओमप्रकाश के साथ सर्वे चौक स्थित गढ़वाल आयुक्त कैम्प कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कार्यालय में तैनात 11 कर्मियों में से केवल चार कर्मी ही मौके पर मौजूद थे। उपस्थिति रजिस्टर के निरीक्षण के बाद, मुख्यमंत्री ने गढ़वाल आयुक्त रविनाथ रमन को निर्देश दिया कि वे उपस्थिति रजिस्टर में हस्ताक्षर नहीं करने वाले कर्मियों के वेतन को तुरंत रोक दें।

मुख्यमंत्री ने आयुक्त कार्यालय के विभिन्न कार्यालयों का करीब एक घंटे तक दौरा किया। पत्र प्राप्ति रजिस्टर मांगने पर, कार्यालय में उपस्थित कर्मियों ने सूचित किया कि पत्र प्राप्त करने के बाद, वे अंकन के लिए पौड़ी के आयुक्त कार्यालय जाते हैं। यह पूछने पर कि यह व्यवस्था किसके आदेश से की गई है। कार्यालय के कार्मिक ने बताया कि 2019 में तत्कालीन निजी सहायक द्वारा इसके लिए मौखिक आदेश दिए गए थे। इस पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने आयुक्त गढ़वाल को निर्देश दिया कि यह कार्य के प्रति लापरवाही दर्शाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.