उत्तराखंड की डीएम की शानदार पहल..डीएम रंजना संवरने वाली है ………..

खबरे राजनीती शहर

काशीपुर में स्थित प्राथमिक स्कूलों के दिन बहुरने वाले हैं। सरकारी स्कूलों का कायाकल्प किया जाएगा, इन्हें स्मार्ट स्कूल के तौर पर विकसित किया जाएगा। इसके लिए सीएसआर के तहत काम होना है। हाल में ऊधमसिंहनगर डीएम रंजना राजगुरु ने इस संबंध में अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने सीएसआर के तहत चल रहे कामों की धीमी रफ्तार पर अपनी नाराजगी जताई। जिलाधिकारी ने सभी कंपनियों को काम में तेजी लाने के निर्देश दिए। डीएम के इस एक्शन के बाद स्कूलों के कायाकल्प संबंधी कार्यों में तेजी आने की उम्मीद है। आपको बता दें कि काशीपुर में कुल 82 प्राथमिक विद्यालयों का कायाकल्प होना है। इसके लिए विभिन्न कंपनियों के साथ एमओयू भी हो चुका है, लेकिन काम रफ्तार नहीं पकड़ रहा। सीएसआर के तहत किए जाने वाले काम को लेकर शनिवार को डीएम रंजना राजगुरु ने कंपनी प्रतिनिधियों और अधिकारियों की बैठक ली।

इस दौरान, डीएम ने उप-शिक्षा अधिकारी गीतिका जोशी से काम की प्रगति रिपोर्ट, सभी बातों पर विचार किया। जिसमें यह पता चला कि अभी तक केवल सीएसआर के तहत 20% काम किया गया है। सिर्फ बहल पेपर मिल और नैनी पेपर मिल ने इस तरह से तालमेल का काम पूरा किया है। विभिन्न संगठनों के आलसी आंदोलन के कारण, व्यवस्था कार्य जारी नहीं रह सका। हमें यह बताने की अनुमति दें कि शिक्षा विभाग ने सीएसआर के तहत सरकारी स्कूलों को तैयार करने के लिए लगभग छह संगठनों के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया था। इन संगठनों के एक जोड़े स्कूलों को उत्सुक बनाने के लिए जोड़ रहे हैं। विभिन्न संगठन मध्यम हैं। वर्तमान में डीएम ने अनुरोध किया है कि ये संगठन योजना से संबंधित व्यवसाय में तेजी लाते हैं, जिसके लिए आवश्यक है कि स्कूलों में काम धीमा कर दिया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.