छोटी बच्ची आंगन में खेल रही थी अचानक गुलदार ने किया ……………………….

खबरे जंगल शहर

उत्तराखंड से जहां आए दिन गुलदार के आ”तं”क की खबरें आ रहे हैं वही ऋषिकेश, रायवाला क्षेत्र के राजाजी पार्क की मोतीचूर रेंज में गु’ल’दार का आं”त”क थ’म’ने’ का ना”म नही ले रहा है। ती’न’ साल के अ”न्द”र ही राजा”जी पार्क की मोतीचूर रेंज में 19 लोगों को गु’ल’दार अबतक निवाला बना चुका है। रायवाला, प्रतीतनगर, गौहरीमाफी और हरिपुरकलां में गुलदार की द’श”ह”त और आ”तं””क तीन सालों से थ’म’ने का नाम नही ले रही है। ती’न’ सा’लो’ से पूरे क्षेत्र में द”ह”श”त का मा’हौ”ल बन गया है।

19 लोगो को बनाया नि”वा”ला’

एक के बाद एक करके गुल”दा”र ने अबतक पूरे 19 लोगों को निवाला बना लिया है, लेकिन पार्क प्रशासन आद”मखो”र गुलदार से लोगों की जा”नमा”न की सु’र”’क्षा करने में नाकाम साबित हो रहा है। ग्रामीणों में लगातार गुलदार के बढ़ते आतंक को लेकर रोष है और वह वन विभाग को इसके लिए सीधे रूप में दोषी मान रहे हैं। आलम यह है कि कोई भी ग्रामीण शाम से लेकर रात तक घरों से बाहर नहीं निकलते ,अब तो यह गुलदार दिन-रात कभी भी हमला करने लग गया है।

ताजा मामला रायवाला के ठाकुरपुर में एक घर के आंगन में 5 वर्षीय बच्चे को इस गुलदार ने निशाना बनाया है। घर के बाहर माता-पिता के साथ बीच में बैठी थी बच्ची। पिता ने बच्ची को बचाने की बहुत कोशिश करी लेकिन सफल नहीं हो पाए, आदमखोर गुलदार मासूम को लेकर जंगल की ओर भाग निकला। पिता की सूचना पर पुलिस और वन कर्मियों की टीम मौके पर पहुंची लेकिन वनकर्मी अंधेरा होने की बात कहकर खिसक लिये।

आंगन से उठा ले गया बच्ची को

रायवाला पुलिस के मुताबिक रात करीब 8:00 बजे ठाकुरपुर में किराए के मकान में रहने वाली मंजू देवी घर के बाहर आंगन में खाना बना रही थी, उनकी 5 वर्षीय बेटी निर्जला पिता राहुल के साथ उनके पास ही बैठी थी ।इसी बीच जंगल से गुलदार घर के आंगन में आ गया और मां और पिता के बीच से निर्जला को उठाकर ले गया। राहुल गुलदार के पीछे काफी दूर तक भागा लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी। ऐसे में सवाल यह उठता है कि लगातार इस तरह के हो रहे मैन-वर्सेस-एनिमल-कनफ्लिक्ट को किस तरह से रोका जाएगा। क्या बेगुनाह लोग यूं ही मरते रहेंगे? गुलदार घर के आंगन में घुस कर लोगों को अपना निवाला बनाते रहेंगे आखिर कब वन विभाग गुलदार से हो रही जनहानि को रोक पायेगा?

Leave a Reply

Your email address will not be published.