नेताओं और मंत्रियों को आईना दिखा रहे उत्तराखंड के ये बेटे, तन-मन-धन से कर रहे सेवा, हर कोई कर रहा इन्हे सलाम

खबरे शहर

जनता ने जिन्हें वोट देकर विधानसभा तक पहुचाया उन्हें अपना विधायक चुना उन 70 में से महज दर्जन भर ही अपना फर्ज इस कोरोना काल मे निभा रहै है बाकी तोजनता का फोन भी उठाने को तैयार नही ओर ऐसे चुने हुए नेताओ की  ,जीते हुए   50 से अधिक उन नेताओ की फौज  है जो खुद को जनता का रहनुमा होने का दावा करते आये है  पर किया कुछ नही खैर आज उनकी पोल खुल चुकी है और वे अपने अपने क्षेत्र में जाहिर हो चुके है।

लेकिन आज समाज मे वो युवा नेता वो उत्तराखंड के बेटे भी मौजूद है जो हर समय आज अपने तन मन धन से इस समय उनकी मदद करने का प्रयास कर रहे है जो जरुतमन्द हैओर उनकी मदद करने के लिए आगे आ रहे है उत्तराखंड की अस्थाई राजधानी में भी वे लोग मौजूद है जो हर पल हर तरह से मदद करते देखे जा सकते है।


बता दे कि देहरादून के चकराता रोड़ स्थित IMA ब्लड बैंक में ” COVID HELP CENTER UK” ने ” तामीर” ग्रुप के  सहयोग से रक्दान कैम्प का आयोजन किया था । हम सभी जानते है कि “कोविड हेल्प सेंटर उत्तराखंड” समूह द्वारा देवभूमि में कोरोनाग्रस्त मरीजों को ऑक्सिजन सिलिंडर , बेड, ICU, वेंटिलेटर, दवा आदि का सहयोग लगतार किया जा रहा है तो दूसरी तरफ कोरोना लहर में सम्पूर्ण उत्तराखंड में प्लाज्मा उपलब्धता में भी इस ग्रुप के युवाओं का महत्वपूर्ण योगदान है।

कोविड हेल्प सेंटर के सह-संस्थापक अभिनव थापर ने बताया कि “कोरोना की महामारी के चलते मरीजों को रक्त व ब्लड प्लेटलेट्स की उपचार के दौरान आवश्यकता पड़ रही है जिसके संदर्भ में हमारे ग्रुप ने इसमें अपना योगदान देने का प्रयास किया। ”  इस रक्दान शिविर में अभिनव थापर, विजयपाल रावत, शुभम कपरूवान, अर्पण चक्रवर्ती, संदीप चमोली, विनीत यादव, श्वेता सिंह, शिवानी सिंह, मनीत मदान, अग्रान्शु ग्रोवर, अंजली, आदि ने अपना सहयोग दिया।

डंके की चोट पर जनता से वोट लेने वालो ओर वोट मांगने उनकी दहलीज पर जाने वाले नेताओं ,कार्यकताओं शर्म करो यदि आप लोग किसी भी तरह जरुतमन्द की मदद आज नही कर पा रहे हो तो चुनाव के दौरान अपनी शक्ल लेकर जब उनकी चोखट पर जाओगे तो क्या कहोगे ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.