उत्तराखंड में इस बार ठंड ने नवंबर में तोड़ा बीते 3 साल का रिकॉर्ड इस साल दिवाली के बाद छूटेगी लोगो की कंपकपी

मौसम शहर

इस प्रकार, नवंबर की अवधि इसी तरह आ गई है और उत्तराखंड में ठंड को देखते हुए इसके अलावा कहीं से भी बाहर फेंक दिया गया है। जलवायु ठंडी महसूस हो रही है और तापमान में गिरावट आई है। आपने शायद इस बात का अनुमान भी लगाया होगा। बद्रीनाथ में बर्फबारी हो रही है। ऊबड़-खाबड़ और खेतों वाले इलाकों में, वायरस ठंडा होने लगा है। व्यक्तियों के आरामदायक वस्त्र भी वैसे ही निकल गए हैं। इस तथ्य के बावजूद कि यह बहुत पहले से नहीं है कि वायरस आ गया है, फिर भी थम्पिंग की उपेक्षा के साथ, इसने हाल के 3 वर्षों के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। सचमुच, उत्तराखंड में तापमान में अप्रत्याशित गिरावट के कारण, हाल के 3 वर्षों के वायरस रिकॉर्ड को तोड़ दिया गया है। बता दें कि अक्टूबर से ही उत्तराखंड में जलवायु शुष्क लगने लगी थी। तापमान कहीं नहीं गिरा और सबसे हाल के 3 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ दिया गया है। यह अनुमान लगाया जा रहा है कि दिवाली के बाद उत्तराखंड में तापमान में और गिरावट आएगी और कड़ाके की ठंड पड़ेगी और बाद के पखवाड़े से धुंध छाई रहेगी। इसी तरह यह अनुमान लगाया जा रहा है कि धुंध इस साल एक साल पहले की तुलना में अधिक मोटी होगी।

मौसम विभाग केंद्र ऋतु आलोकशाला बाहदराबाद के रिसर्च सुपरवाइजर नरेंद्र रावत के मुताबिक नवंबर के पहले सप्ताह से ही उत्तराखंड में मौसम में तीव्र बदलाव आया है और तापमान बेहद नीचे गिर गया है। 2 नवंबर से सुबह और शाम को ठंड काफी बढ़ गई है। शुरुआत में ही ठंड ने अपने पिछले 3 सालों के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। बीते 4 नवंबर को न्यूनतम तापमान 12.4 डिग्री सेल्सियस रहा और अधिकतम तापमान 27.5 डिग्री दर्ज किया गया। पिछले साल का नवंबर पहले सप्ताह में आज के दिन न्यूनतम तापमान 19 डिग्री और अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। 2018 की बात करें तो नवंबर के पहले हफ्ते का न्यूनतम तापमान 13.8 डिग्री और अधिकतम 30 डिग्री सेल्सियस रहा था। 2017 में भी न्यूनतम तापमान 13 डिग्री रहा। बीता 4 नवंबर उत्तराखंड में पिछले 3 सालों में सबसे ठंडा दिन साबित रहा जब न्यूनतम तापमान 12.4 डिग्री सेल्सियस रहा।

मौसम विभाग के अनुसार नवंबर में सूखी ठंड पड़ेगी और 22 नवंबर के बाद हल्की हल्की बूंदाबांदी हो सकती है। दिवाली के बाद सूखी ठंड प्रदेश के निवासियों को सताएगी। न्यूनतम तापमान 10 डिग्री जाएगा और अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस के करीब जाने की संभावनाएं हैं। उत्तराखंड में सर्दी के दस्तक देने के साथ ही पहले ही हफ्ते में कोहरा भी नजर आने लगा है। नवंबर के दूसरे पखवाड़े से कोहरा और घना हो जाएगा। इस साल कोहरा पिछले साल के मुकाबले दुगना होगा। पिछले साल कोहरे में देखने की विजिबिलिटी 100 मीटर थी जबकि इस साल 50 मीटर दूर भी लोग एक-दूसरे को नहीं देख पाएंगे। मौसम विभाग ने लोगों को सर्दी से बचाव के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है। हरिद्वार, उधमसिंह नगर समेत प्रदेश के अन्य मैदानी इलाकों में कई जगह आज हल्का कोहरा रह सकता है। मौसम विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार अन्य स्थानों पर मौसम सामान्य रहेगा। रात में ठंडक और अधिक बढ़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.