उत्तराखंड शहीद राकेश डोभाल की बहादुर बेटी..पिता को ….

करगिल खबरे शहर सीमा

करुण क्रांति को घर में सुना जाता है जो कल दिवाली के लिए प्रबुद्ध होता। संत जवान राकेश डोभाल ऋषिकेश, उत्तराखंड के गंगानगर के निवासी थे और रेजिमेंट का एक हिस्सा और कांस्टेबल थे। देखिए क्या कह रही है उसकी लड़की। उनके नि”ध”न” की सूचना सुनकर उनके परिवार में कोह”रा”म मच गया। जैसा कि भारतीय सेना द्वारा संकेत दिया गया था, पाकिस्तान से स”मा”प्त” करने के लिए कुपवाड़ा के क्रान से लेकर एलओसी के करीब बा”रा”मूला के उरी इलाके तक कई स्थानों पर किया गया था। भारतीय सेना पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब दे रही है। पाकिस्तान के अप्रिय प्रदर्शन में, उत्तराखंड के राकेश डोभाल ने अपने परिवार को अ”नं”त”’ का”ल के लिए छोड़ दिया है।

शहीद पिता की बेटी नित्या डोभाल जिसके पिता राकेश डोभाल ने देश के लिए अपना सर्वोच्च ब”लि”दा”न दे दिया..इस प्यारी फूल सी गुड़िया के हौसले और जज्बे को हर कोई सलाम कर रहा है। नित्या के जांबाज पिता राकेश डोभाल हाल ही में ”श”ही”द हुए हैं। श”ही”द की बेटी नित्या का कहना है कि ये देश के वीर जवान हैं, जिनकी बदौ”ल’त’ हम सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। कश्मीर में बॉर्डर पर पाकिस्तान के साथ हुई मुठभेड़ में उत्तराखंड का एक जवान दिवाली से ठीक पहले श”ही”द हो गया.. दिवाली से पहले श”ही”’द” जवान के घर पर मा”त”म छा गया। जम्मू कश्मीर के बारा”मुला जिले में पाकिस्तान की तरफ से युद्ध विराम का उल्लंघन करते हुए फायरिंग की गई जिसमें ऋषिकेश के निवासी बीएसएफ के जवान राकेश डोभाल श”ही”द” हो गए ।

पाकिस्तान अपनी का”य”र हरकतों से बाज आता नहीं दिखाई दे रहा। पाकिस्तान ने एक बार फिर अपनी का”यराना हरकत दिखाते हुए आज एलओसी के पास अलग-अलग इलाकों में सीजफायर का उल्लंघन किया और फा”य”रिं”ग के दौरान ऋषिकेश के जवान राकेश डोभाल शहीद हो गए ।न्यूज रिपोर्ट्स के अनुसार कुल 2 जवानों और 4 नागरिकों की मृ”त्यु” हुई है जिनमें से एक हमारे उत्तराखंड का सपूत था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.