अपनी संस्कृति को नहीं भूली आईएएस अफसर बनने के बाद भी ,लोगों के बीच रहकर हैं हल निकलती हैं उनकी समस्याओं को

समाचार समाज

जब भी जीवन में कोई भी व्यक्ति सफलता की सीढ़ी चढ़ जाता है तो वह अपनी संस्कृति तथा अपने कल्चर से जुड़े कई चीजें बन जाता है लेकिन कुछ ऐसे महान व्यक्ति भी होते हैं जो कितने भी सफल हो जाए वह आपने धरातल के व्यक्तियों से हमेशा जुड़े रहते हैं और उन्हीं के बीच रहकर उनकी समस्याओं का समाधान करते हैं आज एक ऐसी कहानी हम आपको सुनाने वाले हैं। जहाँ आजकल लोग पश्चिमी सभ्यता को अपनाने की होड़ में लगे हुए हैं, वही आज हम आपको राजस्थान की एक ऐसी महिला IAS के बारे में बताने जा रहे हैं जो IAS बनने के बाद भी अपनी संस्कृति और परंपराओंं से जुड़ी रही।

इस महिला IAS का नाम है “मोनिका यादव” (IAS Monika Yadav) जो राजस्थान के सीकर जिले के श्रीमाधोपुर तहसील के गाँव लिसाड़िया की रहने वाली हैं। आजकल सोशल मीडिया पर इनकी तस्वीर बहुत ज़्यादा वायरल हो रही है जिनमें IAS मोनिका राजस्थान की पारंपरिक वेशभूषा में, माथे पर बिंदी लगाए और गोद में एक नवजात शिशु लिए नज़र आ रही हैं।

IAS अधिकारी मोनिका यादव जो 2014 बैच की IAS ऑफिसर हैं। इनकी तस्वीर देखने के बाद ऐसा प्रतीत होता है जैसे गाँव की कोई महिला हो, लेकिन सच्चाई तो यह है कि वह एक महिला IAS ऑफिसर की तस्वीर है। इन्होंने अपनी तस्वीर के ज़रिए लोगों को यह संदेश दिया है कि आप चाहे कितने भी बड़े पद पर क्यों ना चले जाए, आप अपनी संस्कृति और अपने परंपराओं को कभी ना छोड़े ना हीं उन्हें भूलें।

UPSC में 403वीं रैंक प्राप्त कर सफलता पाई

मोनिका (IAS Monika Yadav) का जन्म गाँव में होने के कारण इनका पालन-पोषण भी पूरी तरह से ग्रामीण परिवेश में हुआ। इनके पिता का नाम हरफूल सिंह यादव है, जो एक सीनियर आईआरएस है। अपने पिता से ही प्रेरणा लेकर मोनिका भी सिविल सर्विस में जाने का फ़ैसला ली और अपने पहले ही प्रयास में इस परीक्षा में 403वीं रैंक प्राप्त कर सफलता पाई।

फिलहाल मोनिका (IAS Monika Yadav) तिर्वा क्षेत्र की DSP के पद पर कार्यरत हैं। मोनिका आपने क्षेत्र के लोगों की शिकायतों को सुनने और उनके समस्याओं को समाधान करने के लिए जानी जाती हैं। मोनिका के इसी कार्य के लिए प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है। मोनिका की शादी भी एक IAS ऑफिसर सुशील यादव से हुई है जो वर्तमान समय में राज समंद में SDM के पद पर कार्यरत है। जब मोनिका ने अपनी बेटी को जन्म दिया था उसी समय की तस्वीर लोगों के बीच काफ़ी वायरल हुई।

IAS Monika Yadav हमेशा अपनी संस्कृति और अपनी परंपराओं से जुड़ कर रही हैं

बेटी के साथ-साथ उन्होंने अपनी नौकरी की जिम्मेदारियों को भी बखूबी निभाया। मोनिका हमेशा अपनी संस्कृति और अपनी परंपराओं से जुड़ कर रही हैं। आईएस मोनिका की जो तस्वीर वायरल हो रही है उसके साथ कैप्शन में यह लिखा गया है कि “IAS Monika Yadav गाँव लिसाड़िया श्रीमाधोपुर की लाडली। सादगी भरा चित्र पहली बार किसी आईएएस का। जय हिंद जय भारत।” लोग IAS मोनिका की बेटी के जन्म पर उन्हें शुभकामनाएँ भी दे रहे हैं।

इस तरह आईएएस मोनिका (IAS Monika Yadav) अपनी संस्कृति और परंपराओं का पालन कर एक सच्चा देशभक्त होने का फर्ज़ अदा कर रही है। उनके इस देश भक्ति से पूरे देश को इन पर गर्व है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.