जानलेवा कोरोनावायरस ने ली एक मां की जान, रोता – बिलकता छोड़ गई नवजात बच्चे को हमेशा के लिए

समाचार समाज स्वास्थ्य

लॉकडाउन में कोरोनावायरस नहीं बहुत से जाने चाहिए कई लोगों की मांग रही है बेटे गए हैं बच्चे गए हैं न जाने कितने रिश्ते को दवा कराया इसमें वायरस है। लाखों की संख्या में लोगों ने इस बीमारी के कारण जान गवाई है यह कोना वायरस किसी भी व्यक्ति के लिए एक बुरे ख्वाब की तरह हो गया है। ऐसा ही पहाड़ टूट पड़ा एक नन्हे बच्चे के ऊपर जो कि रहने वाले थे अमेरिका के वनेसा कार्डेनस गोंजालेज के साथ।

प्रेगनेंट वनेसा ने 9 नवंबर को एक स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया। पूरे घर के लोग खुशियों में डूबे थे हर तरफ़ ख़ुशी का माहौल छाया हुआ था। इसी बीच डिलीवरी के दौरान ही वनेसा कोविड पॉजिटिव पाई गई और कोरोना संक्रमण के कारण उनकी मृत्यु भी हो गई और हमेशा-हमेशा के लिए वह अपनी पूरे परिवार, दो बेटों के साथ अपनी छोटी-सी बच्ची को छोड़ कर चली गई। उन्होंने अपने इस छोटी-सी बच्ची को सिर्फ़ वीडियो कॉल पर ही देखा। एक बार के लिए भी वह अपनी बेटी को गोद में नहीं ले सकी।

गोद में लेने की बात तो बहुत दूर की है वह अपनी छोटी-सी बच्ची को जी भर कर देख भी नहीं सकी। nbclosangeles.com की रिपोर्ट के अनुसार डॉक्टर ने वनेसा को बच्ची से दूर रख दिया था। ताकि बच्चे उनके द्वारा संक्रमण की चपेट में न आ जाए। बच्ची का पूरा ख़्याल वनेसा के पति और उसके पिता रख रहें थे।

वनेसा को इस बात की पूरी उम्मीद थी कि वह जल्द से जल्द इस संक्रमण से ठीक हो जाएंगी और अपनी बेटी को अपने गोद में ले पाएंगी। लेकिन उनका यह सपना-सपना ही रह गया। अंततः उन्हें हर्ट अटैक आ गया और उन्हें UCLA मेडिकल सेंटर में भर्ती कराना पड़ा और वहाँ उनका लगभग 1 महीने तक इलाज़ चला लेकिन इलाज़ के दौरान ही वनेसा की मौत हो गई।
बीमारी के दौरान वह अपनी बेटी को वीडियो कॉल पर देख रही थी और उनकी आंखें पूरी तरह से भर गई थी। उन्हें इस बात का अफ़सोस ही रह गया कि वह अपनी बेटी को एक बार भी अपनी गोद में खिला नहीं सकी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.