देश के लिए शहीद हुए पुलवामा में मेजर की पत्नी निकिता कौर बनी लेफ्टिनेंट अधिकारी

समाचार समाज

पुलवामा हमला 18 फरवरी 2019 को हुआ था जिसमें आतंकवादियों ने हमारी सेना पर हमला करा था उस लड़ाई के दौरान मेजर ढौंडियाल शहीद हो गए थे उनके साथ साथ देश के लिए अन्य कई सिपाही भी शहीद हुए थे और वीरगति को प्राप्त हुए थे मेजर ढौंडियाल को उनकी शादी का कुछ ही समय पूरा हुआ था और वह इतने कम समय में ही वीरगति को प्राप्त हो गए जिसके बाद उनकी पत्नी ने प्रण लिया था कि वह भी भारतीय सेना में शामिल हो अपने देश की सेवा करेंगे और अपने पति के शहादत का बदला लेंगी। और वह वीरगति को प्राप्त हो गए। लेकिन उनकी पत्नी नितिका कौल ढौंढियाल ने अपने पति की तरह सेना में जाने का फैसला किया, आज हम आपको उनकी पत्नी के साहस और सेना में शामिल होने की पूरी जानकारी प्रदान करेंगे।

सेना के अधिकारियों ने निकिता का किया सहयोग

जब जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए एक एनकाउंटर में मेजर ढौंडियाल शहीद हुए थे, उस समय नितिका (Nikita Kaul Dhoundiyal), एचसीएल में नौकरी करती थीं। जब उनके सामने शहीद पति को लाया गया उस समय उन्होंने भी सेना में जाने का फैसला लिया. सेना में भर्ती होने के लिए उन्होंने SSC का फॉर्म भरा. इसके लिए सेना के ऑफिसर्स ने उनका सहयोग किया और उनके मार्गदर्शन से आज वो भारतीय सेना में शामिल हुई है।

नितिका ने अपने पति को जिस तरह से विदाई दी थी. उनका फोटो भी सोशल मीडिया पर काफी चर्चित रहा था. उन्होंने अपने पति को ‘जय हिंद’ बोलकर अंतिम विदाई दी थी। उसके बाद से वो हर किसी की आदर्श बन गई थी. नितिका अभी 30 साल की है. उन्होंने अपने पति की तरह सेना में जाने के लिए पिछले साल शॉर्ट सर्विस कमीशन (एसएससी) की परीक्ष पास कर ली । उन्हें इसके बाद ट्रेनिंग पर भेज दिया गया था. निकिता की ट्रेनिंग खत्म करने के बाद जून में उन्हें सेना में शामिल किया जाना था। उन्हें अब सेना में शामिल कर लिया गया है

कड़ी ट्रेनिंग के बाद इस मुकाम को प्राप्त किया।

नितिका अपने पति को खोने के बाद काफी उदास थी. उन्होंने इस कठिन समय में अपना हौसला बनाये रखा और बतौर कैडेट कड़ी ट्रेनिंग हासिल की. एक साल की ट्रेनिंग पूरी होने के बाद उन्होंने इसे पास कर सेना में ऑफिसर के तौर पर कमीशन हासिल करेंगी। अब वह भी अपने पति की तरह देश की रक्षा करने के लिए तैयार है। पति के शहीद होने के बाद नितिका, दिल्ली में अपने माता-पिता के साथ रह रही थी और वहीं से उन्होंने परीक्षा की तैयारी की। उनका सपना भी सेना की यूनिफॉर्म (Nikita Kaul Dhoundiyal) पहनना था और अपनी तरफ से पति को सच्ची श्रद्धांजलि देना था।

देशवासियों के लिए आदर्श बन गईं थी नितिका

मेजर ढौंढियाल की शहादत के बाद जब उन्हें पहली बार उनके गृहनगर लाया गया था, उस समय नितिका का जो वीडियो आया उसे देखकर सभी की आँखों ने आंसू थे। उन्हें देखकर और उनके द्वारा दी गयी अपने पति की श्रद्धांजलि को सभी ने रुला दिया। अपने पति के शव के पास खड़ी नीतिका ने अपने पति को सैल्यूट किया और कहा, ‘आपने मुझसे झूठ कहा था कि आप मुझसे प्यार करते हो, आप मुझसे नहीं बल्कि अपने देश से ज्यादा प्यार करते थे।

नितिका (Nikita Kaul Dhoundiyal) ने मीडिया से बातचीत करने के दौरान कहा की वह एक बहादुर शहीद की पत्नी हैं और उन्हें अपने पति की शहादत पर गर्व है। आज नितिका देश के लिए आदर्श बन गईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.