खेती के दौरान किसान को मिला सोने के सिक्के और जेवर से भरा कलश , लेकिन आस पास के लोग सब लूट कर भाग गए

समाज

एक किसान को खेत में कुबेर खजाना मिला एक कलश में जिसमे पुराने ज़माने के सिक्के और जेवर भरकर रखे थे मानो किसान की किस्मत खुल गयी हो आइये देखते है क्या है पूरा मामला।

जुताई के दौरान मिले सिक्के और जेवर
यह घटना है यूपी के अमरोहा ज़िले की, जहाँ एक किसान को खेत की जुताई के दौरान कुबेर का खजाना मिल गया। नाजिम नाम का यह किसान अपने नहीं बल्कि अपने मालिक के खेत में हल चला रहा था और इसी दौरान उसकी ट्रैक्टर मिट्टी में फंस गया। लेकिन जब किसान ने झटके से ट्रैक्टर को आगे बढ़ाया तो वहाँ से एक मटके में गड़े हुए चांदी के सिक्के और ज़ेवर बिखरे हुए मिल गए।

लोग सिक्के लूट भाग खड़े हुए
किसान ज़ेवर को देखते ही ट्रैक्टर से नीचे उतरा और सिक्कों ओर जेवरों को देखने लगा। जहाँ पास में ही उसे एक कलश भी दिखाई पड़ा। इससे पहले कि वह कुछ समझता वहाँ लोगों की भीड़ जमा हो गई और लूटपाट मच गई। लोग सारे सिक्के और ज़ेवर लूट ले गए। बेचारे खेत के मालिक और नाजिम को एक भी सिक्के या ज़ेवर नहीं मिले। वह बस देखते ही रह गए।

पुलिस में दर्ज की शिकायत
उसके बाद खेत के मालिक शौकत अली ने पुलिस में शिकायत दर्ज़ कराई। जिसमें उन्होंने कहा कि खेत की जुताई के लिए उन्होंने भाड़े पर ट्रैक्टर लिया था और नाजिम नाम का यह शख़्स खेत जोत रहा था इसी दौरान इसे कलश में ढेर सारे ज़ेवर और सिक्के दिखाई दिए, जिसे तुरंत ही वहाँ मौजूद लोगों ने लूट लिया और भाग गए।

जांच में जुटी है पुलिस
शिकायत के बाद पुलिस ने एक अभियान चलाया, जिसके तहत उसने कुछ लोगों से कुछ सिक्के ही बरामद किए हैं। इस दौरान लोगों और पुलिस के बीच नोकझोंक भी हुई। पुलिस ने बताया कि जितने भी सिक्के और ज़ेवर बरामद किए गए हैं उसे राज्य के खजाने में जमा किया जाएगा।

ऐसा माना जा रहा है कि सिक्के 19वीं सदी के हैं। खैर यह तो विशेषज्ञों को बुलाने के बाद ही पता चल पाएगा और इसके लिए उन्हें जांच के लिए उन्हें बुलाया भी गया है। चांदी के सिक्के और ज़ेवर का वज़न करीब 2 किलो तक बताया जा रहा है। अब देखना है कि पुलिस और कितने सिक्के और ज़ेवर बरामद कर पाती है

Leave a Reply

Your email address will not be published.