लिवर की प्रॉब्लम वालो को नहीं करना चाइये हल्दी का सेवन जानिये क्यों

समाज

वैसे तो हल्दी के बहुत फायदे है और यह हमारे रोज मर्रा जीवन के खाने की एक एहम मसाला है इसके बिना सब्जी में रंग नहीं आता जो लोगो को अजीब लगता है, बाकी हल्दी हमारे यहाँ पूजा पाठ , शादी ब्याह , और चोट लगने में और एंटीबयोटिक का काम करती है
आइए जानते हैं कब हल्दी का सेवन नुकसानदेह हो जाता है.

अगर आप के शरीर में लीवर से जुड़ी कोई समस्या है तो हल्दी के दूध का सेवन आपको नहीं करना चाहिए. दरअसल लीवर की गंभीर बीमारी वाले शख्स का इसपर विपरीत असर पड़ता है.
गर्भवती महिलाओं को हल्दी के दूध को पीने की सलाह दी जाती है. ऐसा माना जाता है कि हल्दी के दूध के सेवन से बच्चे का रंग साफ होता है. लेकिन आपको जानकार हैरानी होगी कि इस तरह से दूध का सेवन गर्भवती महिलाओ के लिए हानिकारक होता है. हल्दी का दूध महिलाओं के गर्भाशय का संकुचन, गर्भाशय में रक्त स्रव या गर्भाशय में ऐंठन पैदा कर देता है. गर्भधारण के 3 महीने के भीतर हल्दी वाले दूध का सेवन नुकसानदेह साबित हो सकता है. ऐसे समय डॉक्टर से सलाह लेकर ही किसी खाद्य पदार्थ का सेवन करना चाहिए
हमारे खाद्य पदार्थों का सेवन अपने शरीर की जरूरतों के हिसाब से करना चाहिए. जिस शख्स का तापमान ठंडा होता है उसे गर्म तासीर के खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए. वहीं जिस शख्स के शरीर का तापमान गर्म रहता है उसे ठंडी तासीर के खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए. शरीर का तापमान हमारे दैनिक कार्यों पर निर्भर करता है. जिन लोगों को गर्म चीजें खाने पर जल्दी असर होता है उनके लिए हल्दी के दुध का सेवन नुकसानदेह हो सकता है. हल्दी के दूध का सेवन आपके शरीर का तापमान बढ़ाकर पिम्पल, कब्ज, खुजली और बैचेनी जैसी समस्या पैदा कर सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.