सुशांत सिंह राजपूत 17 सालो बाद गए थे अपने गांव सिर्फ अपना माँ की मन्नत पूरी करने के लिए जानिये क्या है वो मन्नत…….

समाज

अपनी माँ से सभी प्यार करते है और कोई ऐसा इंसान शायद नहीं होगा जो अपनी माँ से प्यार नहीं करता होगा , माँ ही वो एक ऐसा इंसान है जिससे हम बचपन से लेकर अभी तक सबसे ज्यादा जुड़े होते है , आज हम सुशांत सिंह राजपूत की बात कर रहे है जो अपनी माँ से बेहद प्यार करते थे और उनकी वो बात हम आपको बताएंगे जो आपकी आँखों में आंसू ला देगी चलिए आपको बताते है। दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को आज बहुत कम ही ऐसे लोग होंगे जो नहीं जानते होंगे अभिनेता ने अपनी काबिलियत के दम पर बॉलीवुड इंडस्ट्री में बहुत कम समय में ही बड़ी उपाधि हासिल कर ली थी। उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में रहते हुए बहुत सी ऐसी फिल्मों में काम किया जो हमेशा उनकी याद सभी को दिलाती रहेगी।

बता दें कि उन्होंने इंडस्ट्री में फिल्म ‘काई पो छे’ से अपने कदम रखे थे। इसके बाद उन्होंने एक से बढ़कर एक कई फिल्मों में काम किया धोनी द अनटोल्ड स्टोरी में उन्होंने अपनी अदाकारी से सबका दिल जीत लिया और यहीं से उन्होंने रातों-रात एक बड़ी पहचान बना ली थी। इसके बाद उन्होंने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया लेकिन उनकी छिछोरे अंतिम फिल्म रहे गई जिसके लिए उन्हें सम्मानित भी किया गया यह फिल्म सभी लोगों को काफी बड़ी सीख देती है लेकिन सुशांत से सब को जीने की राह दिखा कर खुद ही इस दुनिया को अलविदा कह गए।

हाल ही में उनकी प्रथम पुण्यतिथि के मौके पर उनके फैंस और घरवालों के अलावा सोशल मीडिया के माध्यम से उन्हें बॉलीवुड इंडस्ट्री के कई बड़े दिक्कत कलाकारों ने भी श्रद्धांजलि अर्पित की थी बता दें कि 14 जून साल 2020 सुशांत सिंह राजपूत ने अचानक इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। तब से लेकर आज तक सभी लोग उनको सोशल मीडिया के माध्यम से लगातार याद करते रहते हैं लेकिन आज हम उनसे जुड़ी है कि ऐसी बात आपको बताने जा रहे हैं जिससे शायद आप आज तक अनजान रहे होंगे।

मैं 34 वर्ष की उम्र में ही सुशांत सिंह राजपूत ने बॉलीवुड इंडस्ट्री में अपना बड़ा नाम कमा लिया था और वह एक बड़े सितारे बन गए थे लेकिन उसके बावजूद भी बेहद ही सिंपल जिंदगी जीना पसंद करते थे इतना ही नहीं उन्होंने कभी भी अपने स्टार होने का घमंड नहीं किया यही कारण है कि उनके ना होने के बाद भी लोगों ने पहले की तरह याद करते हैं। अभिनेता बिहार के पटना के रहने वाले थे। मुंबई में अपना करियर बनाने के बाद भी सुशांत अपने परिवार व गांव से जुड़े हुए थे।

लेकिन आज हम इस बारे में आपको बताने जा रहे हैं उसे सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे। वैसे तो आप जानते ही हैं अभिनेता चार बहनों के बीच में एक अकेले भाई थे। लेकिन क्या आप यह जानते हैं बड़ी मन्नतों के बाद सुशांत का जन्म हुआ था। जी हां उनकी मां उषा ने कई मंदिरों में मत्था टेका इसके बाद जाकर सुशांत सिंह का जन्म उनके घर में हुआ। उनकी मां अक्सर उनके लिए मन्नतें मांगा करती थी साल 2019 में ऐसे ही एक मन्नत को पूरा करने के लिए सुशांत से 17 साल बाद अपने गांव पहुंचे थे।

सुशांत सिंह शुरू से ही काफी होनहार थे उन्होंने पढ़ाई में भी अपना नाम रोशन किया था। इसके साथ ही जैसे ही उन्होंने एक्टिंग में अपने कदम रखे तो वहां भी उन्होंने सफलता हासिल की, खबरें तो यह भी है कि अभिनेता ने जितने भी ऑडिशन अपनी लाइफ में दिए अब में पास हुए थे। ऐसे ही उनकी मां ने एक मन्नत मांगी थी कि सुशांत सिंह राजपूत के साथ सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो वे अपने बेटे का माता के मंदिर में मुंडन करवाएंगे इसको लेकर अभिनेता अपने गांव पहुंचे थे।

अभिनेता अपनी मां से बहुत ही ज्यादा प्यार करते थे और उनके बेहद ज्यादा करीब थे। इसलिए वे उनकी किसी भी बात को टाला नहीं करते थे। जिस समय अभिनेता गांव पहुंचे थे उस समय उनको देखने के लिए भीड़ इकट्ठा हो गई थी। क्योंकि वह इकलौते ऐसे कलाकार थे। जिन्होंने बहुत कम समय में ही बॉलीवुड इंडस्ट्री में बड़ा नाम कमा लिया और अपने गांव का भी नाम रोशन कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.