हिमाचल प्रदेश का एक ऐसा चमत्कारी मंदिर जहा फर्श पर सोते ही औरते हो जाती है गर्भवती

समाज

दुनिया न जाने कितनी रहस्मयी चीजे और जगह है जिसका पता हमारा साइंस भी नहीं लगा पाया है जो इतना एडवांस हो गया है , चलिए आपको एक ऐसे ही अजीब घटना के बारे में बताते है, हिमाचल प्रदेश में एक ऐसा अदभूत मंदिर है जिसकी फ़र्श पर अगर महिलाएँ सो जाए तो वह गर्भवती हो जाती है।

ये काफ़ी प्रचलित मंदिर है और इस मंदिर की विशेषता है कि अगर कोई स्त्री इस मंदिर के फ़र्श पर सो जाए तो उसकी गोद भर जाती है। इस अनोखे मंदिर को संतान दात्री के नाम से भी जाना जाता है। संतान की सुख प्राप्ति के लिए यहाँ लोग आते है। ऐसा मानना है कि जिन महिला को शादी के अरसे बाद भी अगर संतान सुख की प्राप्ति नहीं हुई है तो उनको एक बार इस मंदिर के दरवाजे खटखटाने चाहिए।

यह मंदिर हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में स्थित है
Simsa Mata Temple
यह अनोखा मंदिर हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के लड़भडोल तहसील स्थित सिमस गाँव में अवस्थित है। इस मंदिर के प्रति जुड़े लोगों के आस्था के अनुसार जिन महिलाओं को संतान की उत्पति नहीं होती वे अगर इस मंदिर के फ़र्श पर लोट जाए तो उन्हे संतान की प्राप्ति होती है। विशेषत: नवरात्र के महीने में यहाँ आस पास के पड़ोसी राज्य जैसे-पंजाब, हरियाणा एवं चंडीगढ़ से हजारो महिलाएं आती है जो अभी तक संतान का मुंह ना देखी हो। ऐसा मानना है कि यहाँ आने से संतान प्राप्ति की मनोकामना पूर्ण हो जाती है।

इस चमत्कारी मंदिर को संतान दात्री के नाम से भी जाना जाता है
माता सिमसा का यह चमत्कारी मंदिर सिमस नाम के सुन्दर जगह पर अवस्थित है। दूर दराज के इलाको में भी यह मंदिर प्रचलित है। सिमसा माता का मंदिर संतान दात्री के नाम से भी मसहूर है। जो दंपति संतान सुख से वंचित होते है। वे प्रतिवर्ष नवरात्र के महीने में आकर माता से संतान रूपी आशीर्वाद प्राप्त करते है। नवरात्र के इस विशेष पुजा को यहाँ के स्थानीय भाषा में इसे सालिन्दरा कहा जाता है।

ये है मंदिर की मान्यता
Simsa Mata Temple
यहाँ के मानयताओं के अनुसार अगर कोई स्त्री अपने स्वप्न में कंद मूल या फलो का सपना देखती है तो उसे संतान रूपी आशीर्वाद प्राप्त होता है और वही देवी सिमसा आने वाली संतान के लिंग निर्धारण का भी संकेत देती है। जैसे कोई स्त्री अपने सपने में अमरूद का मिलते देखती है तो यह उसके लिए पुत्र योग का संकेत होता है, वही अगर कोई स्त्री स्वप्न में भिंडी देखे तो यह पुत्री होने का संकेत होता है और अगर स्त्री पत्थर की बनी कोई तस्वीर या धातु देखती है तो यह निःसंतान का संकेत होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.