विदेश के एक शहर में ₹12 में मिल रहा है घर जानिए क्या है कारण इतने सस्ते घर मिलने का

समाचार समाज

हम अपनी जिंदगी में घर को बनाने के लिए अपनी सारी जमा पूंजी लगा देते हैं और कुछ तो ही तो जिंदगी बदल जाती है अपना घर बनाने में रोटी कपड़ा मकान तीनों ऐसी चीजें हैं जो हमारे जीवन के लिए बहुत ही आवश्यक है पर किसको यह नसीब नहीं होती है एक घर को बनाने में लाखों रुपया लग जाता है कभी-कभी करोड़ों भी लग जाता है पर ढंग से नहीं बन पाता है

लेकिन दुनिया में एक देश ऐसा है, जहां महज 12 रुपये में ही आपको मकान मिल जायेगा। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर जिस घर को बनाने में लाखों-करोड़ों रुपये खर्च होते है, आखिर ऐसा क्या कारण है यहां मात्र 12 रुपये में घर बिक रहा है। आपको बता दें कि इसका प्रमुख कारण ट्रंसपोर्ट कनेक्टिविटी है।

रॉयटर्स में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, लेग्राड शहर क्रोएशिया की दूसरी ऐसी जगह थी, जहां देश की सबसे ज्यादा जनसंख्या रहती थी। लेकिन करीब 100 साल पहले ऑस्ट्रो और हंगरियन साम्राज्य (Austro-Hungarian Empire) के टूटने के बाद से यहां जनसंख्या लगातार कम हो रही है।

लेग्राड के मेयर इवान साबोलिक ने कहा कि जब से हमारा शहर एक सीमावर्ती शहर बना है तब से यहां जनसंख्या लगातार कम हुई है। लेग्राड शहर की सीमा हंगरी से जुड़ी हुई है।

ऐसा है लेग्राड शहर का नजारा

जान लें कि लेग्राड शहर में हरियाली पर्याप्त है। यहां चारों ओर जंगल है। इस शहर में 2,250 लोग रहते हैं। 70 साल पहले लेग्राड शहर में आज के मुकाबले दोगुने लोग रहते थे। मेयर ने बताया कि हाल ही में 19 घर एक साथ खाली किए गए थे, जिसकी कीमत सिर्फ 1 कुना या 12 रुपये है। इनमें से 17 घर अब तक बिक चुके हैं।

रहने में म्युनिसिपालिटी कर रही मदद

उन्होंने आगे कहा कि इनमें से कुछ घर टूटे हुए हैं। अगर कोई यहां मकान खरीदना चाहता है तो घर की मरम्मत करने के लिए म्युनिसिपालिटी उसकी मदद करेगी। अगर कोई भी यहां रहना चाहता है तो उसे कम से कम 15 साल का यहां रुकने का एग्रीमेंट करना होगा।

3 thoughts on “विदेश के एक शहर में ₹12 में मिल रहा है घर जानिए क्या है कारण इतने सस्ते घर मिलने का

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *