100/150 साल पहले कैसा दिखाई देता था दिल्ली शहर, इन 20 अनदेखी तस्वीरों में देख लीजिये

Delhi Trends

दिल्ली (Delhi), भारत (India) की राजधानी ही नहीं, बल्कि देश के सबसे प्राचीन शहरों में से एक भी है. दिल्ली को इंद्रप्रस्थ के नाम से भी जाना जाता है. किसी ज़माने में दिल्ली इन्द्रप्रस्थ की राजधानी भी हुआ करती थी. उन्नीसवीं शताब्दी के आरंभ तक दिल्ली में इंद्रप्रस्थ नामक गांव भी हुआ करता था. दिल्ली पर 300 ईसा पूर्व से ही अलग-अलग शासकों ने राज किया. 13वीं शताब्दी में फिरोजशाह तुगलक दिल्ली का राजा बना. इसके बाद दिल्ली सन 1206 के बाद ‘दिल्ली सल्तनत’ की राजधानी बनी. इस दौरान दिल्ली पर ‘खिलजी वंश’, ‘तुगलक वंश’, ‘सैयद वंश’ और ‘लोदी वंश’ समेत कुछ अन्य वंशों के शासकों ने राज किया.

दिल्ली में आज मुग़ल काल में बने कई ऐतिहासिक स्मारक हैं जो इस शहर को प्राचीन बनाने का काम करती हैं. आज ये प्राचीन स्मारक दिल्ली की ‘आन, बान और शान’ बन चुके हैं. यही दिल्ली की पहचान भी हैं.

चलिए आज आप भी दिल्ली की 100 साल पुरानी तस्वीरें देख लीजिये-

1- सन 1910, देश की राजधानी दिल्ली का अद्भुत नज़ारा

2- सन 1938, राष्ट्रपति भवन का Aerial View

3- सन 1930, इंडिया गेट पर Armored Cars की परेड

4- सन 1858, दिल्ली का मशहूर ‘सेंट जेम्स चर्च’

5- सन 1951, दिल्ली में इंडिया गेट ‘गणतंत्र दिवस परेड’ का Aerial View

6- सन 1858, दिल्ली का मशहूर ‘Humayun Tomb’

7- सन 1870, दिल्ली का मशहूर ‘Tughlaqabad Fort

8- सन 1858, दिल्ली के मशहूर ‘लाल क़िले’ के पास यमुना नदी को पार करती नाव

9- सन 1865, दिल्ली की मशहूर चांदनी चौक मार्किट की मुख्य सड़क

10- सन 1903, चांदनी चौक स्थित ‘वॉच टावर’

11- सन 1911, हाथी और घुड़सवार सेना के साथ ‘दिल्ली दरबार’ का जुलूस

12- सन 1900, दिल्ली का मशहूर ‘पुराना किला

13- सन 1870, दिल्ली के कुतुब कॉम्प्लेक्स का ‘अलई दरवाज़ा’

14- सन 1858, दिल्ली में यमुना किनारे बसा ‘बाशनि घाट’

15- सन 1860, दिल्ली की मशहूर जामा मस्जिद

16- सन 1860, दिल्ली का मशहूर ‘कश्मीरी गेट’

17- सन 1858, दिल्ली का मशहूर ‘जंतर मंतर वेधशाला’

18- सन 1860, दिल्ली की मशहूर जामा मस्जिद का पिछला हिस्सा

19- सन 1938, दिल्ली का मशहूर ‘Safdarjung Tomb’

20- सन 1903, ‘दिल्ली दरबार’ का शानदार दृश्य

दिल्ली की इन ऐतिहासिक तस्वीरों में बसी हैं इतिहास की सुनहरी और ख़ूबसूरत यादें.

उन्नीसवीं शताब्दी के आरंभ तक दिल्ली में इंद्रप्रस्थ नामक गांव भी हुआ करता था. दिल्ली पर 300 ईसा पूर्व से ही अलग-अलग शासकों ने राज किया. 13वीं शताब्दी में फिरोजशाह तुगलक दिल्ली का राजा बना. इसके बाद दिल्ली सन 1206 के बाद ‘दिल्ली सल्तनत’ की राजधानी बनी. इस दौरान दिल्ली पर ‘खिलजी वंश’, ‘तुगलक वंश’, ‘सैयद वंश’ और ‘लोदी वंश’ समेत कुछ अन्य वंशों के शासकों ने राज किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.