लाल किले को आजादी के 75 वे वर्ष पर मिली एक नए कैफे की सौगात, खुलने जा रहा लाल किले में कैफे, 40% सस्ता मिलेगा हर प्रकार का भोजन

Delhi Trends News समाचार

आपको बता दे कि देश इस साल अपनी 75 वी साल गिरा माना रहा है। ऐसे में देश में एक हर्षो उल्लास का माहौल बना हुआ है।आपको बता दे की इस बार का स्वतंत्रता दिवस पर्यटकों के लिए एक तोहफा लेकर आया है जिसके चलते लाल किले में एक रेस्टोरेंट खुलने जा रहा है. आपको बता दे की यह नया कैफे  दिल्ली हाइट्स (Cafe Delhi Heights) का ही एक नया आउटलेट है जो अब लाल किले में रेस्टोरेंट के रूप में पहला राष्ट्रीय स्मारक बन गया है. बताया जा रहा है कि रेस्टोरेंट का समय स्मारक के अनुरूप ही होगा, जो भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण की ओर से संरक्षित स्मारकों के लिए अपने नियमों के अनुसार तय किया गया है.

बेहद कम होगा खाने का रेट।

सूत्रों के मुताबिक यह सुनने में आया है की दिल्ली हाइट्स के संस्थापक विक्रांत बत्रा द्वारा बताया गया की कैफे के मेन्यू में बिरयानी, पास्ता और बर्गर जैसी विदेशी डिश के के साथ-साथ देश भर के पसंदीदा स्ट्रीट फूड होंगे. और साथ ही उन्होंने कहा कि दूसरे जगहों की तुलना में इसका मूल्य 30 से 40 प्रतिशत कम रखा गया है, ऐसा इसलिए है क्योंकि लाल किले में सभी वर्गों के लोग आते हैं और यह सुनिश्चित करना जरूरी है की सभी लोग वह का आनंद ले सके। विक्रांत बत्रा का कहना है कि समोसे के लिए मेन्यू 30 रुपये से शुरू होगा और किसी डिश का 500 रुपये तक होगा. साथ ही रेस्टोरेंट शत-प्रतिशत शाकाहारी होगा.रेस्टोरेंट का डिजाइन मुगल स्मारक की स्थापत्य शैली के तौर पर किया गया है. बैठने की जगह कम रखी गई है, जिससे ऐतिहासिक वातावरण का आनंद लिया जा सके. पूरे दिन के भोजन, कैजुअल-कैफे की दीवारें भारतीय संस्कृति के इतिहास के चित्रों और फेमों से सजी हैं. यह रेस्टोरेंट लाल किला परिसर में डालमिया समूह द्वारा बनाए जा रहे इंटरप्रिटेशन सेंटर के ठीक नीचे छत्ता बाजार के ग्राउंड फ्लोर में स्थित है.

रेस्टोरेंट में मिलेंगे देश भर से ये फूड।

यह रेस्टोरेंट डालमिया समूह के बीच एक समझौते का हिस्सा है, जो सरकार की एडॉप्ट-ए-हेरिटेज योजना, एएसआई और कैफे दिल्ली हाइट्स के तहत 2018 में लाल किले के लिए स्मारक मित्र बन गया. कैफे के बेस्टसेलर और शेफ स्पेशल में आईएसबीटी मखनी मैगी, मुंबई वड़ा पाव, उनके प्रसिद्ध बर्गर, सलाद, ऐपेटाइजर, पिज्जा और लसग्ने के अलावा दाल माखन वाला, राजस्थानी लाल मास और जम्मू स्पेशल राजमा चावल शामिल हैं. वहीं मिठाई में मोतीचूर लड्डू, चीज केक और चॉकलेट मड-केक संडे जैसे स्वादिष्ट भोजन शामिल हैं.

Riya Pokhriyal

Writer and Editor on online33post.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.