आज से Petrol 33 रुपये और Beer 17 रुपये हो सकती है सस्ती

Delhi Trends

पेट्रोल 100 रुपये, गैस सिलेंडर 1000 रुपये, आटा 35 रुपये और चावल 40 रुपये किलो. अब इतनी महंगाई में आम आदमी कैसे गुजारा कर रहा है? ये सिर्फ उसकी अंतरआत्मा ही जानती है. अब यदि सोचिए कि एक लीटर पेट्रोल आपको 70 रुपये मिलने लगे. पेट्रोल-डीजल की कीमतें घटते ही आटा-चावल के दाम भी कम हो जाएंगे. अब आप सोच रहे होंगे कि ये नामुमकिन है, क्योंकि महंगाई बढ़ तो सकती है पर घट नहीं सकती है. लेकिन अब ये ख्वाब सच होने वाला है. जानकारी के मुताबिक मोदी सरकार जल्द ही पेट्रोल-डीजल को GST के दायरे में लाने वाली है.

GST काउंसिल की बैठक में होगा फैसला

GST को देश में लागू हुए 5 साल पूरे हो चुके हैं. चंडीगढ़ में 28-29 जून को GST काउंसिल की बैठक होने वाली है. जानकारी के मुताबिक इस बैठक में मोदी सरकार कई बड़े फैसले ले सकती है. सूत्रों के अनुसार इस दौरान ही पेट्रोल-डीजल और बियर को GST के दायरे में लाया जा सकता है. GST काउंसिल की बैठक से पहले पीएम मोदी के आर्थिक सलाहकार परिषद के चेयरमैन विवेक देबरॉय ने इसके संकेत दिए हैं. उनके हिसाब से महंगाई से निजात पाने के लिए GST काउंसिल की बैठक में सरकार बड़ा निर्णय ले सकती है.

  • पेट्रोल और बियर पर GST क्यों नहीं लगाती सरकार?
  • पेट्रोल पर कितना कमाई करती हैं सरकारें?
  • दिल्ली में पेट्रोल-डीजल पर कीमत

आम जनता के लिए राहत की बड़ी खबर है:

सरकार ने संकेत दिए हैं कि आम जनता को अगले महीने पेट्रोल के दामों में राहत मिल सकती है
GST Council की मीटींग से पहले पी.एम के आर्थिक सलाहकार परिषद् के चेयरमैन डी देबरॉय ने पेट्रोल डीज़ल को GST के अंदर लाने कि संभावना जताई है।

दूसरी विपक्ष ने केन्द्र सरकार को कई बार मंहगाई के मुद्दे पर जबरदस्त घेरा है, और आरोप लगाया है कि केन्द्र सरकार सिर्फ अपना जेब भरने का काम करती है। जिससे जनता को थोड़ी राहत जरुर मिली थी पर अब यदि पेट्रोल और डीज़ल को GST के अंदर ले आया जाता है तो दोनों के मूल्य में 33 रुपए तक कि कमी हो सकती है। इसके साथ ही बीयर और शराब के मूल्य में भी सरकार कमी ला सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.