मैनपुरी के बेटे ऋतुराज ने यूपीएससी की परीक्षा में हासिल की सफलता, बने IAS अफसर

Delhi Trends

यूपीएससी 2021 का रिजल्ट घोषित किया जा चुका है और इसमें उत्तर प्रदेश बिहार समेत कई राज्यों के विद्यार्थियों ने अपना परचम लहराया है। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के ऋतुराज प्रताप यादव ने यूपीएससी की परीक्षा में 296वी स्थान प्राप्त करके अपने आईएएस अफसर बनने के सपने को साकार कर दिखाया है। इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग से बीटेक करने के बाद रिलायंस रिफाइनरी जामनगर में उन्हें मेंटिनेंस इंजीनियर का पद मिल गया था। 18 लाख का सालाना पैकेज था। लेकिन वह आईएएस अफसर बनना चाहते थे इसलिए उन्होंने 1800000 का पैकेट छोड़ दिया।

मूलरूप से जनपद के नगला बूचा निवासी ऋतुराज:

मूलरूप से जनपद के नगला बूचा निवासी ऋतुराज ने नगर के सुदिती ग्लोबल स्कूल से 10वीं की परीक्षा वर्ष 2012 और वर्ष 2014 में सीआरबी स्कूल से 12वीं की परीक्षा पास की। 2015 से 2019 के बीच उन्होंने एनआईटी सूरत से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग में बीटेक किया। 2020 में उन्हें रिलायंस रिफाइनरी जाम नगर में 18 लाख रुपये पैकेज में मेंटिनेंस इंजीनियर बनने का मौका मिल गया।

ऋतुराज के पिता एक सरकारी शिक्षक हैं और उनकी माता हाउसवाइफ है। ऋतुराज के एक और भाई सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रहे हैं और उनके सबसे छोटे भाई आईआईटी रुड़की से पढ़कर नौकरी करते हैं। आपको बता दें कि ऋतुराज बचपन से आईएएस अफसर बनना चाहते थे इसलिए उन्होंने इंजीनियरिंग करने के बाद नौकरी नहीं की बल्कि तैयारी करने लगे और पहले प्रयास में ही आईएएस की परीक्षा पास कर दिखाया।

ऋतुराज के पिता एक सरकारी शिक्षक हैं और उनकी माता हाउसवाइफ है:

ऋतुराज के पिता एक सरकारी शिक्षक हैं और उनकी माता हाउसवाइफ है। ऋतुराज के एक और भाई सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रहे हैं और उनके सबसे छोटे भाई आईआईटी रुड़की से पढ़कर नौकरी करते हैं। आपको बता दें कि ऋतुराज बचपन से आईएएस अफसर बनना चाहते थे इसलिए उन्होंने इंजीनियरिंग करने के बाद नौकरी नहीं की बल्कि तैयारी करने लगे और पहले प्रयास में ही आईएएस की परीक्षा पास कर दिखाया।

मूलरूप से जनपद के नगला बूचा निवासी ऋतुराज ने नगर के सुदिती ग्लोबल स्कूल से 10वीं की परीक्षा वर्ष 2012 और वर्ष 2014 में सीआरबी स्कूल से 12वीं की परीक्षा पास की। 2015 से 2019 के बीच उन्होंने एनआईटी सूरत से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग में बीटेक किया। 2020 में उन्हें रिलायंस रिफाइनरी जाम नगर में 18 लाख रुपये पैकेज में मेंटिनेंस इंजीनियर बनने का मौका मिल गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.