क्या आप बिटकॉइन के बारे में जानते है , और यह आपको कैसे बना सकता है करोड़पति

ज्ञान

जब से वर्चुअल चीजे आना शुरू हुई है तबसे लोग हर चीज को वर्चुअल में कन्वर्ट करने में लगे है लोगो ने पैसे को भी वर्चुअल करने का तरीका ढूंढ लिया है जिसे हम क्रिप्टोकरेन्सी या बिटकॉइन भी कहते है आपको बता दें तो दुनिया की सबसे लोकप्रिय माने जाने वाली क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन की क़ीमत आजकल बहुत तेजी से बढ़ रही है।

ऐसा कहा जा रहा है कि 3 सालों के बाद पहली बार शनिवार को बिटकॉइन $31000 का आंकड़ा पार कर लिया। यानी इसका मतलब है कि 1 बिटकॉइन से आप आने वाले 2030 तक करोड़पति तक बन सकते हैं। चार्ल्स एडवर्ड्स, जो कि बिटकॉइन क्रिप्टोकरेंसी डील करने वाली डिजिटल एसेट मैनजमेंट कंपनी के फाउंडर हैं, उनका ऐसा कहना है कि बिटकॉइन की क़ीमत इस साल तक 2 लाख डॉलर तक बढ़ने की उम्मीद है।

बिटकॉइन किसे कहते हैं?
आजकल बिटकॉइन लोगों के बीच अच्छा खासा प्रचलित हो चुका है। बिटकॉइन एक तरह का ओपन पेमेंट नेटवर्क है जहाँ पर लोग इंटरनेशनल पेमेंट यानी पैसों की लेन देन कर सकते हैं। भारत में 1 बिटकॉइन की क़ीमत लगभग 23, 14, 747.44 रुपए है। लेकिन अक्सर इसकी क़ीमत घटती और बढ़ती रहती है।

कैसे बिटकॉइन को खरीदें और बेचे
बिटकॉइन को एक डिजिटल वॉलेट की तरह भी प्रयोग किया जा सकता है। लेकिन इंटरनेट की फेक दुनिया में कुछ लोग इसे खरीदने की प्रक्रिया को जाने बगैर ही धोखा खा बैठते हैं। वैसे इसे आप सीधे तौर पर क्रिप्टो एक्सचेंज या किसी व्यक्ति से ऑनलाइन खरीद सकते हैं। इसे खरीदने का एक और तरीक़ा है जिसमें आप किसी व्यक्ति से ऑनलाइन यानी पेयर टू पेयर भी खरीद सकते हैं। इसे खरीदने के लिए आपको इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि इसके बिक्री वाले जगह का कोई कानून नहीं होता है।

भारत में तो इसे दीवानी और आपराधिक कानूनों के दायरे में भी रखा गया है। साथ ही बिटकॉइन में पैसे निवेश करने से पहले या इसे खरीदने से पहले आपको यह भी देखना होगा कि खरीद करने वाली जगह का पंजीकरण किया गया है या नहीं, या फिर कहाँ से इसका पंजीकरण किया गया है और वह भारतीय कानूनों को मानने के लिए बाध्य है या नहीं। बिटकॉइन को किसी भी व्यक्ति से पेयर टू पेयर खरीदना काफ़ी जोखिम भरा भी हो सकता है। इसलिए, आपके लिए यह बहुत आवश्यक है कि इसमें निवेश करने के पहले आप अगले व्यक्ति के बारे में पूरी जानकारी इकट्ठी कर ले कि कहीं वह फ्रॉड तो नहीं है।

बिटकॉइन में मुनाफा कैसे होता है
सबसे पहले बिटकॉइन का प्रयोग टेक्नोलॉजी प्रोफेशनल्स या तो फ्रीलांसर के द्वारा ही किया जाता था और इससे थोड़े बहुत सिर्फ़ पेमेंट्स किए जाते थें। लेकिन बाद में यानी 2016 से 17 तक बिटकॉइन पूरी तरह से निवेश के रूप में परिवर्तित हो गया और इसकी क़ीमत भी लगभग 30 गुणा तक बढ़ चुकी थी। लेकिन दिसम्बर 2017 में सारे लोग हैरत में पड़ गए जब इसकी क़ीमत $20000 डॉलर तक पहुँच गया। तो वहीं 2017 में भारतीय बाजारों में बिटकॉइन की क़ीमत लगभग 12 लाख थी जो आज के समय में बढ़कर 23 लाख तक पहुँच चुकी है।

भारतीय कानून क्या कहता है बिटकॉइन के बारे में
भारत में अभी भी बिटकॉइन पर कोई स्पष्ट कानून नहीं है। 2018 में बिटकॉइन पर RBI ने प्रतिबंध लगा दिया था तो वहीं सुप्रीम कोर्ट ने इस प्रतिबंध को खारिज भी कर दिया था। बात अगर मीडिया की, की जाए तो ऐसी भी खबरें आई कि बहुत जल्द ही संसद से कानून पास करवाकर सरकार क्रिप्टो करेंसी को रोक सकती है। लेकिन आगे कुछ हुआ नहीं और यह ख़बर वहीं तक सीमित रह गई। आज के समय में भी भारत में क्रिप्टो करेंसी पर कोई कानून नहीं बनाया गया है।

यदि आप भी बिटकॉइन की खरीदारी करना चाहते हैं तो उससे पहले भारतीय कानूनों को अवश्य ही ध्यान में रखें। कभी किसी अनजान व्यक्ति के झांसे में ना आए और सब कुछ अच्छे से पता लगाकर आप बेफिक्र होकर खरीदारी करें। आपके सपने को पूरा करने में यह अवश्य ही मददगार साबित होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.