क्या हमारी पृथ्वी का जीवन के अंतिम दिनों में पहुंच गए है , जानिये महामारी के बारे में क्या कहती है “बाइबिल “

ज्ञान

जैसा आप देख ही रहे होंगे की आज कल विश्वभर में महमारिया बढ़ रही है। और भ्रस्टाचार भी बढ़ रहा है लोग स्वार्थी हो रहे है , कोई किसी के मदद नहीं करना चाहता , सब लोभ लालच में फसकर रह गए है। यही कारण है की पृथ्वी का धीरे धीरे अंत की और बढ़ रही है , इन सबके अंत के बारे में सभी धर्मो के ग्रंथो में लगभग एक ही चीज लिखी गयी है , आइये आपको बाइबिल क्या कहता है इन सबके के बारे में यह बताते है।

शास्त्र में पहले से बताया गया है कि अंतिम दिनों में महामारियाँ फैलेंगी। (लूका 21:11) लेकिन क्या ये महामारियाँ ईश्‍वर की ओर से भेजी गईं हैं? कुछ लोग सोचते हैं कि ईश्‍वर सज़ा देने के लिए लोगों को बीमारी से तड़पाता है। लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं है! सच तो यह है कि बहुत जल्द ईश्‍वर अपने राज के ज़रिए सभी बीमारियाँ और महामारियाँ जड़ से खत्म कर देगा।

बीमारियों के बारे में बाइबल के हवाले:-
बाइबल किसी विशेष महामारी या बीमारी का नाम नहीं बताती, जैसे कोविड-19, एड्‌स, या फिर स्पैनिश फ्लू। लेकिन यह अवश्य बताती है कि “महामारियाँ” और “जानलेवा बीमारियाँ फैलेंगी।” (लूका 21:11; प्रकाशितवाक्य 6:8) जब ये घटनाएँ होंगी तो वह समय “आखिरी दिनों” या “दुनिया की व्यवस्था के आखिरी वक्‍त की” निशानी होगी।—2 तीमुथियुस 3:1; मत्ती 24:3.

बाइबल यह जरूर कहती है कि परमेश्‍वर ने कुछ मौकों पर लोगों को बीमार करके सज़ा दी। मिसाल के लिए कुछ लोगों को कोढ़ की बीमारी हो गई थी। (गिनती 12:1-16; 2 राजा 5:20-27; 2 इतिहास 26:16-21) इन अवसरों पर परमेश्‍वर ने मासूम और निर्दोषों लोगों को कुछ नहीं किया। उसने केवल उन लोगों को सज़ा दी, जिन्होंने उसके खिलाफ काम किए थे। इस तरह परमेश्‍वर ने उनका न्याय किया। नहीं, कुछ लोग दावा करते हैं कि आज भी परमेश्‍वर महामारी या दूसरी बीमारियों से लोगों को सज़ा देता है। किन्तु बाइबल में ऐसा कुछ नहीं बताया गया है। क्यों?

देखा जाए, तो पुराने समय में भी और आज भी परमेश्‍वर के लोग बीमार पड़ते हैं। जैसे, परमेश्‍वर का एक वफादार सेवक तीमुथियुस ‘बार-बार बीमार’ हुआ। (1 तीमुथियुस 5:23) किन्तु बाइबल यह नहीं बताती कि परमेश्‍वर उससे खफा था, इसलिए वह बीमार हुआ। उसी तरह आज परमेश्‍वर के वफादार सेवक भी बीमार पड़ते हैं या कुछ को जानलेवा बीमारी हो जाती है। ऐसा अमूमन इसलिए होता है, क्योंकि लोग गलत समय पर गलत जगह होते हैं।—सभोपदेशक 9:11
बाइबल सिखाती है कि अब तक वह दिन नहीं आया है, जब परमेश्‍वर पापियों को सज़ा देगा। बल्कि आज हम “उद्धार के दिन” में जी रहे हैं। इसका अर्थ है परमेश्‍वर आज सभी लोगों को एक प्यार-भरा निमंत्रण दे रहा है। वह चाहता है कि लोग उसके बारे में जानें, जिससे वे अपनी जान बचा सकें। (2 कुरिंथियों 6:2) वह कैसे यह निमंत्रण दे रहा है? प्रचार काम के ज़रिए। आज परमेश्‍वर के ‘राज की खुशखबरी’ का संदेश पूरी दुनिया में सुनाया जा रहा है।​—मत्ती 24:14

बाइबल बताती है कि वह वक़्त बहुत पास है जब कोई बीमार नहीं पड़ेगा। जब परमेश्‍वर इस धरती पर राज करेगा, तब सेहत से संबंधित सारी समस्याएँ खत्म हो जाएँगी। (यशायाह 33:24; 35:5, 6) उसके शासन में न मौत रहेगी, न दर्द, न ही कोई तकलीफ! (प्रकाशितवाक्य 21:4) यहाँ तक कि जिनकी मौत हो चुकी है, उन्हें वापस जिलाया जाएगा। इस धरती पर सभी लोगों की सेहत अच्छी होगी और वे खुश रहेंगे।-भजन 37:29; प्रेषितों 24:15.

Leave a Reply

Your email address will not be published.