जानिए श्री कृष्ण भगवान से जुड़ी हुई महिमा के बारे में कुछ खास बातें

ज्ञान धार्मिक

यह बात तो आप सभी को पता होगी जभी भी धरती पर श्री कृष्ण जन्म लिया है वह बड़े ही नटखट थे उन्होंने बहुत बालपन में अपने कारनामे करके दिखाएं हैं। और अपनी महिमा उसे काफी लोगों का दिन मोहित किया था उस जमाने में लेकिन उनसे जुड़ी हुई कई ऐसी महिलाएं भी हैं। जिनसे आप अभी तक अवगत नहीं हुए होंगे क्योंकि उनका वर्णन अभी तक किसी भी पुस्तक में नहीं किया गया है उनका वर्णन केवल पुराने भयभीत ग्रंथों में ही मौजूद है और वह हमसे सही होते हैं। कि कृष्णकथा एवं कृष्णाख्यान ही भारत में एक ऐसी गाथा है जोकि सदियों से भारतीयों के जनमानस के साथ अंतरंगता से जुडी हुई है और उनकी अन्तचेंतना में इस तरह घनिष्ठता से समाहित है और श्रीकृष्ण की मन्त्रमुग्ध करने वाली अलौकिक माधुरी व्यक्तित्व छटा उनके विचारों, अन्तर्भावों और सांस्कृतिक आयामों में इतनी रस बस गई है कि प्रत्येक भारतीय उन्हें अपने अन्तरंग पाकर उनसे अपने दिल की बात कहने में भी सफल हो जाता है.

चाहे वह किसी वर्ग, जाति अथवा धर्म से सम्बधित हो, खेती बाडी करता हुआ कृषक या कारखाने का मजदूर अथवा गणमान्य शास्त्रवेत्ता ही क्यों ना हो ये सभी भारतीय कृष्णकथा एवं लीला प्रसंगों को अपने अपने स्वतंत्र ढंग से प्रस्तुत कर उसे जीवंत ही नहीं बनाते बल्कि व्यापक कर देते हैं.

यहीं नहीं भारतीयों के सर्वाधिक हर्षोल्लास के साथ मनाये जाने वाले अत्यन्त लोकप्रिय उत्सवों की की श्रृंखला में श्रीकृष्ण से जुडे उत्सव और त्यौहार जैसे जन्माष्टमी, रास, हिण्डोला, तीज होली, वसन्तोत्सव इत्याादि सर्वप्रसिद्ध हैं. जिसके कारणवशं यह स्वत: सिद्ध है कि श्रीकृष्ण भगवान भारत के प्रत्येक कोने में विविध आस्थाओं वाले जनसमुदाय के केवल आकर्षण केन्द्र ही नहीं बल्कि श्रद्धापात्र भी हैं अत: उनका यह अदम्य लोकदेवता रूप भारत में राष्ट्रीय एकता एवं सद्भावना के प्रचार प्रसार के लिए प्रेरणास्त्रोत की भांति कार्यान्वित किया जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.