मोहम्मद कैफ ने खोया दिल्ली का भरोसा, इस पूर्व दिग्गज गेंदबाज को बनाया गया दिल्ली कैपिटल्स का सहायक कोच

News Urdu खेलकुद

आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स ने भारत के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ से नाता तोड़ लिया है। कैफ 2019 से 2021 आईपीएल तक दिल्ली के सहायक कोच थे, लेकिन अब उनकी डील खत्म हो गई है। माना जा रहा है कि दिल्ली का कैफ पर से भरोसा उठ गया है और इस वजह से उन्होंने कैफ की डील को रिन्यू नहीं किया है। इसके अलावा सहायक कोच के रूप में शामिल किए गए अजय रात्रा का अनुबंध भी नहीं बढ़ाया गया है। अजीत अगरकर बने नए सहायक कोच दिल्ली ने भारत के पूर्व तेज गेंदबाज अजीत अगरकर को नया सहायक कोच नियुक्त किया है। वह डिप्टी टू हेड कोच रिकी पोंटिंग की भूमिका निभाएंगे। इसके अलावा प्रवीण आमरे टीम के साथ बल्लेबाजी कोच और जेम्स होप्स गेंदबाजी कोच के रूप में जुड़ेंगे।

अगरकर की पहली कोचिंग जॉब

ईएसपीएम क्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, स्टार स्पोर्ट्स के साथ कॉन्ट्रैक्ट खत्म होते ही अगरकर दिल्ली की टीम से जुड़ जाएंगे। अगरकर का भारत-श्रीलंका सीरीज तक स्टार के साथ अनुबंध है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद अगरकर की यह पहली कोचिंग जॉब होगी। अगरकर आईपीएल भी खेल चुके हैं। वह 2008 से 2010 तक कोलकाता नाइट राइडर्स टीम के लिए खेले। इसके बाद वह 2010 से 2013 तक दिल्ली कैपिटल्स टीम के लिए खेले। अगरकर ने लीग में 62 मैचों में 47 विकेट लिए।

अगरकर आईपीएल में दिल्ली के लिए खेल चुके हैं

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 26 टेस्ट मैचों में 58 विकेट और 191 वनडे में 288 विकेट लिए। इसके अलावा उन्होंने चार टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच भी खेले हैं। इसमें उन्होंने तीन विकेट लिए। अगरकर 2007 टी20 वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम इंडिया का भी हिस्सा थे। दिल्ली कैपिटल्स की टीम इस साल आईपीएल ट्रॉफी के सूखे को खत्म करना चाहेगी। टीम आईपीएल 2020 के फाइनल में पहुंची थी। वहीं, 2021 में दिल्ली को प्लेऑफ में हार का सामना करना पड़ा था।

अगरकर आईपीएल में दिल्ली के लिए खेल चुके

अगरकर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 26 टेस्ट मैचों में 58 विकेट और 191 वनडे मैचों में 288 विकेट झटके थे। इसके अलावा उन्होंने चार टी-20 अंतरराष्ट्रीय भी खेले हैं। इसमें उन्होंने तीन विकेट झटके थे। अगरकर 2007 टी-20 विश्व कप जीतने वाली टीम इंडिया का भी हिस्सा रहे थे। दिल्ली कैपिटल्स की टीम इस साल आईपीएल ट्रॉफी के सूखे को खत्म करना चाहेगी। टीम 2020 आईपीएल के फाइनल में पहुंची थी। वहीं, 2021 में दिल्ली को प्लेऑफ में हार का सामना करना पड़ा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.