यदि शनिदेव के प्रकोप से पानी है मुक्ति तो, करें यह पांच चीजें हर शनिवार

ज्ञान धार्मिक

ज्योतिष आचार्यों के हिसाब से शनिदेव इंसाफ के देवता माने जाते हैं शनिवार का दिन पूर्ण रूप से शनिदेव को ही समर्पित किया गया है। तथा माना जाता है इस दिन सच्चे मन तथा निष्ठा के साथ जो भी इनकी पूजा-अर्चना करता है वह उनके सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं। तथा शनि देव हमेशा से ही कर्मों के अनुसार उसे फल प्रदान करते हैं ऐसा भी माना जाता है कि शनिदेव अगर किसी भक्तों से नाराज हो जाते हैं तो बड़े-बड़े राजपाट तक समाप्त कर देते हैं अपने क्रोध के कारन। इसीलिए व्यक्ति शनि देव की साढ़ेसाती तथा ढैय्या से बहुत डरते हैं एवं उससे मुक्ति प्राप्त करने का उपाय करते हैं। आज हम यहां पर यह बताने जा रहे हैं कि वो कौन सी ऐसी 5 चीजें हैं कि जिनका शनिवार के दिन खाने मात्र से ही शनिदेव के प्रकोप से मुक्ति प्राप्त की जा सकती है।

ये हैं वो 5 चीजें:

उड़द दाल की खिचड़ी का सेवन: वैसे भी व्यक्ति शनिवार के दिन खिचड़ी का सेवन करना पसंद करते हैं। किन्तु शनिवार के दिन अगर उड़द के दाल की खिचड़ी का सेवन किया जाए तो इससे शनि देव खुश होते हैं परिणामस्वरूप शनि देव के प्रकोप से मुक्ति प्राप्त होती है।

काले तिल का सेवन: ज्योतिषशास्त्र में शनिवार के दिन काले तिल खाना बेहद लाभकारी माना गया है। ऐसा भी बोला जाता है कि शनिवार के दिन काले तिल खाने से शनि देव का प्रकोप कम हो जाता है।

गुलाब जामुन का सेवन: यदि कोई शख्स शनि ग्रह के दोष से परेशान है तो उसे शनिवार के दिन गुलाब जामुन की मिठाई का सेवन अवश्य करना चाहिए। ऐसी प्रथा है कि शनिवार के दिन गुलाब जामुन खाने से शनि देव शांत होते हैं।

सरसों के तेल से बनी चीजों का सेवन: क्योकि शनिवार के दिन शनि देव को सरसों का तेल चढ़ाया जाता है इसलिए ऐसा माना जाता है कि अगर शनिवार के दिन सरसों के तेल में बनी हुई चीजों का सेवन किया जाए तो इससे भी शनि देव शांत होते हैं एवं शख्स को फायदा पहुंचाते हैं।

काले चने का सेवन: ऐसी प्रथा है कि शनिवार के दिन काले चने की सब्जी खाने से शनि दोषों से मुक्ति प्राप्त होती है तथा शनि दोष के कारण अटके पड़े काम भी आरम्भ हो जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.