उत्तराखंड में शराब पीकर पत्नी-बेटियों को पीटता था पति.. फिर पत्नी ने की दो बेटियों के साथ की खुदकुशी

खबरे शहर

शराब की लत सिर्फ एक इंसान को ही नहीं, उसके पूरे परिवार को भी बर्बाद कर देती है। अब ऊधमसिंहनगर के खटीमा में ही देख लें। यहां पति की शराब की लत से परेशान एक महिला अपनी दो मासूम बच्चियों संग नहर में कूद गई। रविवार को जब इन तीनों की लाशें बरामद हुईं तो मौके पर मौजूद हर शख्स की आंखें भर आईं, दिल दर्द से तड़प उठा। खुदकुशी से पहले मां ने चुन्नी से दोनों छोटी बच्चियों के हाथ अपने हाथ से बांधे और नहर में कूद गई। रविवार को जब तीनों की लाशें मिली तब भी उनके हाथ आपस में बंधे हुए थे। महिला ने खुदकुशी क्यों की, ये भी पता चल गया है। महिला के भाई मोहम्मद अशफाक ने इस संबंध में मृतक के पति के खिलाफ खुदकुशी के लिए उकसाने और शारीरिक-मानसिक प्रताड़ना का केस दर्ज कराया है।


पुलिस को दी गई तहरीर में अशफाक ने बताया कि उसकी बहन सिम्मी का निकाह वार्ड नंबर 3 इस्लामनगर में रहने वाले इरफान से हुआ था। शादी के बाद दंपति की दो बेटियां और एक बेटा हुआ। अशफाक का कहना है कि इरफान को शराब की लत थी। वो नशे में पत्नी और बेटियों के साथ अक्सर मारपीट करता था। 1 मई की रात भी यही हुआ। इरफान ने रात दस बजे पत्नी सिम्मी(35) और 10 वर्षीय फलक और 9 साल की अजना को बेरहमी से पीटा। मारपीट के बाद आरोपी ने तीनों को घर से निकाल दिया। घटना के वक्त 12 साल का बेटा फरमान घर पर ही था। रोज-रोज की प्रताड़ना से तंग आकर सिम्मी ने बेटियों समेत शारदा नहर में कूदकर जान दे दी। दो मई को तीनों के शव मझोला रेलवे क्रासिंग के पास मिले। घटना के बाद से आरोपी इरफान फरार है, पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.